कोरोना स्ट्रेन
Advertisement

जब से कोरोना के नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है तभी से ही पूरी दुनिया में अफरा-तफरी मची हुई हैं. भारत में भी इसके आने की पूरी सम्भावना बताई जा रही हैं.

कोरोना स्ट्रेन

ब्रिटेन में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, ब्रिटेन समेत कई देशों में दस्तक दे चूका हैं. अब लगभग पूरी दुनिया ने 31 दिसम्बर तक ब्रिटेन से दूर रहने का फैसला कर चुकी है, कहने का तात्पर्य यह है की भारत समेत कई देशों ने यूनाइटेड किंगडम (UK) से हवाई यातायात बन्द कर दिया हैं.

Advertisement

कोरोना के नए स्ट्रेन ने यूनाइटेड किंगडम यानि की ग्रेट ब्रिटेन में कोहराम मचा रखा हैं. यूनाइटेड किंगडम में कोरोना के नए स्ट्रेन से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही हैं. इन मरीजों की कुल संख्या कितनी है इसकी तो अभी तक पूरी जानकारी हासिल नहीं हुई है लेकिन मरीज दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं.

कोरोना स्ट्रेन

कोरोना के नए स्ट्रेन के मरीजों की पढ़ती हुई संख्या को देखते हुए दुनिया भर के देशों ने यूनाइटेड किंगडम से यातायात के सभी कनेक्शन कुछ समय के लिए रोक दिए हैं. आपको बता दें की ब्रिटेन के अलावा कोरोना के नए स्ट्रेन के केस दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, नीदरलैंड, इटली, ब्राजील और डेनमार्क जैसे कई बड़े देशों में भी मिल रहे हैं. ऐसे में भारत कोरोना के इस नए स्ट्रेन को लेकर क्या अपडेट्स है? क्या यह भारत में भी आ सकता है? या आ चूका है? आइए जानते है इसको लेकर पूरी रिपोर्ट.

यह है भारत में कोरोना के नए स्ट्रेन की रिपोर्ट?

भारत वासियों के लिए एक बड़ी खुश खबर यह है की भारत में अभी तक कोरोना के नए स्ट्रेन का एक मामला सामने नहीं आया हैं. लेकिन भारत में यह असर जरुर दिखाएगा इसकी पूरी सम्भावना जताई जा रही हैं.

क्योंकि सोमवार को लन्दन से दिल्ली आई एक हवाई जहाज में 266 यात्री और स्टाफ़ के मेम्बर थे, जिनमे 5 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई हैं. जिसके बाद इन पांचो मरीजों के कोरोना सैम्पल NCDC (राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम) मंत्रालय भेज दिए हैं.

कोरोना स्ट्रेन

अब NCDC इन पांचों लोगों के कोरोना सैम्पल की जांच करेगी. जिसमे मुख्य रूप से इसी चीज की जांच होगी की इनमे कोरोना का नया स्ट्रेन है या फिर वही पुराना वाला covid-19 ही हैं. स्वस्थ्य अधिकारियों के अनुसार एक हवाई जहाज जो की UK (यूनाइटेड किंगडम) से कोलकता पहुंचा था उसमे 222 यात्री और स्टाफ़ के मेम्बेर्स में 2 लोग कोरोना पोजिटिव पाए गए. इन दोनों लोगों के सैम्पल भी NCDC को भेज दिए हैं. मंगलवार को आई इन सभी सातों मरीजों की कोरोना के नए स्ट्रेन की रिपोर्ट नेगेटिव बताई जा रही हैं.

कोरोना के नए स्ट्रेन को रोकने के लिए सरकार ने लिया बड़ा फैसला

फ़िलहाल भारत में तो अभी तक कोरोना का नया स्ट्रेन किसी भी मरीज में नहीं देखने को मिला हैं और यही स्थिति आगे भी बरकरार रहे इसके लिए भारत सरकार ने 22 दिसम्बर से लेकर 31 दिसम्बर तक ब्रिटेन के साथ सभी यातायात पर रोक लगा दी हैं. सरकारी अधिकारियों की माने तो यह सरकार की तरफ़ से कोरोना के स्ट्रेन को रोकने के लिए बड़ा फैसला साबित हो सकता हैं.

नीती आयोग (NITI Aayog) के सदस्‍य वी.के.पॉल ने इस बात की पुष्टि कर दी है की अभी तक कोरोना के नए स्ट्रेन के मरीज भारत में नहीं मिले हैं. वी.के.पॉल ने इसको रोकने को लेकर सरकार की गतिविधियों के बारे में भी जानकारी दी.

वी.के.पॉल ने बताया की केन्द्र सरकार ने 31 दिसम्बर तक सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया है सिर्फ़ आपात कालीन उड़ाने ही चलेगी. जिनमें भी यात्रियों के लिए नए नियम बनाए गए हैं. यात्रियों के लिए स्‍टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) जारी किया है. इसके चलते यूनाइटेड किंगडम (ब्रिटेन) से आए सभी यात्रियों को बीते 14 दिनों की अपनी सारी ट्रैवल हिस्‍ट्री साझा करनी होगी.

वी.के.पॉल के मुताबिक कोरोना के नए स्ट्रेन के परिक्षण में जो भी खर्च आएगा वह भारत सरकार उठाने वाली हैं. यानि की आम जनता के लिए कोरोना के नए स्ट्रेन की सारी जांचे फ्री होने वाली हैं.

यह भी पढ़ें :-

जानिए कोरोना के नए स्ट्रेन की पूरी जानकारी 

Advertisement

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *