Advertisement

यूपी CM योगी आदित्यनाथ ने कहा की वह ना तो तालाबंदी यानि लॉकडाउन लगाएंगे और ना ही लोगों को दुःख में मरने देंगें.

देश भर में कोरोना का केहर बढ़ता जा रहा है, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मामले को गंभीरता से लेते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को टीम 11 की बैठक को संबोधित किया. इसमें कोरोना पर कई तरह की बातें हुई और राज्य में भी इस महामारी की रोकथाम के लिए सख्त दिशा निर्देश जारी किए गए.

योगी

Advertisement

योगी ने कही बड़ी बातें

CM योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी की परिस्थिति को लेकर सुझाव देते हुए कहा की “जरूरत पड़ने पर कमियों को दूर करने के लिए निजी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों पर नियंत्रण रखा जाए, हमारी प्राथमिकता कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए एक प्रभावी रणनीति को लागू करना है”.

उन्होंने आगे कहा की “हमें पूरी तैयारी के साथ कोरोना महामारी का मुकाबला करना होगा, क्योंकि इस लड़ाई में किसी भी प्रकार की लापरवाही की कोई गुंजाइश नहीं है, पिछले साल की तरह, हमें इस युद्ध को बड़ी ताकत से लड़ना होगा. उसी के लिए ऑक्सीजन सुविधा के साथ और बेड बढ़ाना होगा”.

योगी ने राज्य में लागु किए सख्त दिशा निर्देश

सीएम योगी आदित्यनाथ प्रसाशन को सख्त दिशा निर्देश देते हुए कहा की “’पीड़ितों पर खास ध्यान रखने की जरूरत है, गलत और भ्रामक जानकारी देने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी, मुख्यमंत्री ने उन्होंने 15 मिनट में एंबुलेंस के लिए प्रतिक्रिया देने का समय निर्धारित किया है”.

अधिकारीयों से उन्होंने कहा की “किसी भी हालत में कोविड  रिपोर्ट देने में देरी नहीं होनी चाहिए”. इस दौरान जरूरत पड़ने पर निजी प्रयोगशालाओं से मदद लेने या पूरी तरह से उनकी मदद लेने और उन्हें आवश्यक राशि का भुगतान करने का सुझाव भी दिया गया, सीएम ने प्रदेश में आरटी-पीसीआर टेस्ट की क्षमता 70% तक बढ़ाने का निर्देश दिया है”.

इसे भी जरुर ही पढ़ें:-

बेहन बेटियों की सुरक्षा के लिए बंगाल में बनेगा एंटी-रोमियो स्क्वाड –योगी
Advertisement

By Sachin

3 thoughts on “योगी: “ना तो लॉकडाउन लगाऊंगा, ना ही लोगों को दुःख में मरने दूंगा””

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *