Advertisement

मलंग गढ़ किले के उपर स्थित मच्छिंद्रनाथ मंदिर में कुछ गैर सामाजिक तत्वों ने जबरदस्ती घुसकर हंगामा किया और अपने धर्म के नारे भी लगाए.

देश भर से आराजकता की कई घटनाओं के बिच अब महाराष्ट्र से नई खबर सामने आई है, ये खबर ना तो रात में किसी हिंदू मंदिर के मूर्ति तोड़ने की है और ना ही किसी पुजारी पर हमला करने की. बल्कि यहां मामला बहुत ही उल्टा देखने को मिल रहा है, इस मंदिर में गैर सामाजिक तत्वों की गैंग के मंदिर के भीतर आकर दिन दहाड़े अपने महजबी नारे भी लगाए.

मच्छिंद्रनाथ

Advertisement

मच्छिंद्रनाथ मंदिर में घुसे असामाजिक तत्व

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार महाराष्ट्र के मलंग गढ़ किले के उपर स्थित भगवान मच्छिंद्रनाथ के प्राचीन मंदिर में असामाजिक तत्वों ने दिन दहाड़े हंगामा किया, वे लोग मंदिर में जबरन घुसे और श्रद्धालुओं से झगड़ा भी किया. फिर इन लोगों ने मंदिर में चल रही आरती को बाधित करने के लिए अपने महजबी नारे लगाने शुरू कर दिए, मगर आरती को भी बिच में रोका नहीं गया.

बता दें इंटरनेट और सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है, इस वीडियो में दिख रहा है की कैसे असामाजिक तत्वों की भीड़ ने मंदिर परिसर पर कब्ज़ा जमाया हुआ है. इसके अलावा वीडियो से स्पष्ट हो रहा है की ये भीड़ हिंदू भक्तों को उनके अनुष्ठान करने के खिलाफ धमका रही है और इतना ही नहीं इन लोगों ने हिंदुओं को उनकी वार्षिक परंपरा को निभाने से रोकने के लिए वो उनके चारों तरफ घूम-घूम कर चिल्लाने लगे.

मच्छिंद्रनाथ मंदिर का संपूर्ण इतिहास

महाराष्ट्र के मलंग गढ़ किले के उपर स्थित भगवान मच्छिंद्रनाथ मंदिर प्राचीन समय से ही यहां स्थित है. ये मंदिर भगवान विष्णु के दस प्रमुख अवतारों में से प्रथम अवतार भगवान मच्छिंद्रनाथ को समर्पित है. प्राचीन कथाओं में उल्लेखनीय है की धर्म का पालन करने वालों को प्रलय से बचाने के लिए भगवान विष्णु मछली के रूप इस धरती पर अवतरित हुए और उस रूप को ही आज मच्छिंद्रनाथ भी कहा जाता है.

इसे भी पढ़ें:-

झारखंड में हेमंत सरकार ने रामनवमी जुलूस में रोक लगाई, भाजपा ने किया विरोध

Advertisement

By Sachin

One thought on “मच्छिंद्रनाथ मंदिर में असामाजिक तत्वों ने मचाया बवाल, लगाए खुद के धार्मिक नारे”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *