भारत
Advertisement

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने का की “अगर भारत शांति की दिशा में एक कदम उठाता है, तो पाकिस्तान दो कदम उठाएगा”. इससे ये समष्ट है की पाकिस्तान अब लड़ाई नहीं करना चाहता.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाकिस्तान ने भारत के साथ फिर से व्यापार और लेन देन करना चाहता है और इसके लिए पाकिस्तान सरकार ने मंजूरी भी दे दी है. बता दें की पाकिस्तान इसी वर्ष के जून महीने से इण्डिया से कपास का आयत करने वाला है. तो इस लिहाज से ये कहना गलत नहीं होगा की पाकिस्तान की अकड़ अब ठिकाने आने लगी है.

भारत

Advertisement

भारत को लेकर पाकिस्तान की राय

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने एक इन्टरव्यू में कहा की “भारतीय समकक्ष ने ‘हार्ट ऑफ एशिया समिट’ के अपने संबोधन में पाकिस्तान के खिलाफ कोई नकारात्मक बात नहीं की”. पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर की भी खूब तारीफ की है.

अपने बयान ने शाह महमूद कुरैशी ने दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बिच LOC को लेकर हुए पत्रों के आदान प्रदान को लेकर भी चर्चा की, इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा की “अगर भारत शांति की दिशा में एक कदम उठाता है, तो पाकिस्तान दो कदम उठाएगा”.

भारत के साथ बातचीत ही एकमात्र रास्ता –कुरैशी

शाह महमूद कुरैशी को लगता है की भारत के साथ बातचीत ही एकमात्र रास्ता है. उन्होंने इस पर बात करते हुए कहा की “पाकिस्तान कभी भी बातचीत से पीछे नहीं हटा है, हमारा मानना ​​है कि बातचीत ही एकमात्र रास्ता है”.

आगे बोलते हुए कुरैशी ने कहा की “दो परमाणु शक्तियां हैं, जो युद्ध जैसी स्थितियों में शामिल नहीं हो सकते, क्योंकि यह सुसाइड करने के बराबर होगा, इसलिए जब कोई दूसरा समाधान नहीं है, कोई सैन्य समाधान नहीं है, तो आगे बढ़ने के लिए संवाद ही एक मात्र रास्ता रह जाता है”.

इसे भी पढ़ें:-

संगीत रागी बोले –अवैध रूप से भारत आए बंगलादेशी मुसलमानों को देश में कोई जगह नहीं

Advertisement

By Sachin

2 thoughts on “भारत के आगे एक बार फिर पाकिस्तान ने टेके घुटने, जानिए पूरा मामला”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *