बजट 2021-22
Advertisement

बजट 2021-22 में सरकार एग्रीकल्चर लोन को 19 लाख करोड़ रुपए तक बढ़ा सकती हैं. जिसका फ़ायदा करीब भारत देश के 11 करोड़ किसान उठाने वाले हैं.

बजट 2021-22

1 फरवरी के दिन देश की वित्त मंत्री बजट 2021-22 का ऐलान संसद में करने वाली हैं. नए साल के नए बजट को लेकर आम आदमी की अपेक्षाएं भी बहुत हैं. पिछले साल की मार पर नया बजट मरहम का काम करे लोगों ने ये उम्मीदें नए बजट से लगा रखी हैं. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है की इस साल का बजट में कुछ स्पेशल होने वाला हैं. अब क्या स्पेशल होगा इसकी जानकारी तो नहीं है लेकिन इसको लेकर कयास यह लगाए जा रहे है की इस बार के बजट में किसानों को बड़े फ़ायदे मिलने वाले है, एग्रीकल्चर विभाग की पिछली जितनी भी स्कीमे थी उन सब में बढ़ोतरी होने की पूरी उम्मीद हैं.

Advertisement

सूत्रों के अनुसार एग्रीकल्चर लोन में बड़ी बढ़ोतरी हो सकती हैं. जिससे किसानों की जेबें भारी होने वाली हैं. जिस एग्रीकल्चर लोन की अधिकतर सीमा 15 लाख करोड़ रुपए थी उसकी इस सीमा को बढ़ाने पर केंद्र की मोदी सरकार विचार कर रही हैं. इस बजट की सीमा करीब 15 लाख करोड़ रुपए से बढ़कर 19 लाख करोड़ रुपए तक हो सकती है या इस से भी ज्यादा हो सकती हैं.

यही नहीं PM किसान सम्मान योजना में भी बढ़ोतरी की पूरी उम्मीदे हैं. बता ते चलें की PM किसान सम्मान योजना में पहले हर एक किसान परिवार को 6 हजार रुपए मिलते थे, लेकिन इस साल के बजट में यह राशी बढ़ने वाली हैं. बजट 2021-22 के बाद यह राशी 6 हजार रुपए से पढ़कर 9 हजार रुपए होने की उम्मीदें हैं. इस योजना के लाभ उठाने वाले किसानों की संख्या 11 करोड़ 50 लाख हैं. यानि की अगर केंद्र सरकार यह बदलाव लेकर आती है तो PM किसान सम्मान योजना का 2021 साल में बजट अरबों-खरबों रुपय तक का हो सकता हैं.

यह भी पढ़ें :-

जानिए दिल्ली में हुए इजरायल दूतावास के पास धमाके की पूरी रिपोर्ट

Advertisement

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *