BJP

इंडिया टुडे (INDIA TODAY) ने एक लेख छापा, जिसमें उन्होंने लिखा की BJP और RSS में आपसी अनबन चल रही हैं. जिस पर अब आरएसएस का जवाब सामने आया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इंडिया टुडे (INDIA TODAY) ने 24 मई 2021 को एक लेख जारी किया, जिसमें बताया गया की सत्ता धारी भारतीय जनता पार्टी और विश्व के सबसे बड़े संगठन यानि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के बिच आपसी तालमेल बिगड़ गया है. अब इस लेख का खंडन करते हुए आरएसएस की ओर से भी संज्ञान आ चूका हैं.

बता दें की RSS की ओर से अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील अम्बेकर अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस लेख का खंडन किया है, उन्होंने एक प्रिंटेड पत्र के सहारे लिखा की “पाक्षिक पत्रिका ‘इंडिया टुडे’ की 31 मई, 2021 के अंक में प्रकाशित रिपोर्ट आधारहीन, मनगढ़ंत और तथ्यों के विपरीत है. उपरोक्त विषय पर RSS अधिकारियों के साथ कोई चर्चा नहीं हुई. महामारी में संघ की भूमिका पर बात हुई. सरकार की भूमिका के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई. सामान्य बातचीत को सनसनी फैलाने के उद्देश्य से बिना किसी तोड़-मरोड़ कर प्रस्तुत किया गया है. कोरोना के इस विपत्तिकाल में केवल भ्रान्ति फैलाने के उद्देश्य से लिखी गई इस शरारतपूर्ण रिपोर्ट को हम सिरे से ख़ारिज करते हैं”.

जानकारी दें की इंडिया टुडे ने अपने लेख में इस बात का दावा किया गया की RSS के प्रचारक रहे नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के 7 साल पूरे होने तक कभी ये नहीं सोचा होगा कि संघ के साथ उनके रिश्ते इस कदर खराब होंगे, इस लेख में आरएसएस के BJP से नाराज होने का दावा भी किया गया और लिखा की अयोध्या में राम मंदिर निर्माण और जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद-370 हटाने के बावजूद कोरोना की दूसरी लहर ने जिस तरह मई के पहले 10 दिनों में ही 40 हजार लोगों की जान ली, जिससे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ नाराज़ हैं.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

सीमा चिश्ती ने हिंदू धर्म और RSS का उड़ाया मजाक

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *