Advertisement

बॉलीवुड अभिनेत्री और ‘नागिन’ फैम एक्ट्रेस मौनी रॉय ने कहा की “श्रीमद्भागवत गीता को स्कूलों में पढ़ना चाहिए और मनोरंजन क्षेत्र को भी गीता की शिक्षाओं को अपनाना चाहिए”

मौनी रॉय

अक्सर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाली एक्ट्रेस मौनी रॉय एक बार फिर चर्चा में आ गई है, हाल ही में हुए एक साक्षात्कार में उन्होंने ‘श्रीमद्भागवत गीता’ की महिमा बताते हुए कहती है की “गीता, स्कूल सिलेबस का हिस्सा होना चाहिए क्योंकि उसमें जीवन से जुड़े हर सवाल के जवाब हैं”.

Advertisement

मौनी रॉय ने लॉकडाउन में पढ़ी ‘श्रीमद्भागवत गीता’

कोरोना काल में जब पूरी दुनिया और देश भर में महामारी से बचने के लिए लॉकडाउन लगा हुआ था, तब मौनी रॉय हिंदू धर्म ग्रंथों को पढ़ने का विचार आया और उन्होंने वैसा ही किया. उन्होंने कहा की “मैंने बचपन में भागवत गीता का सार पढ़ा था, लेकिन अब तक इसे नहीं समझा”. गोरतलब है उन्होंने लॉकडाउन के समय ही सही से क्लास लेकर इसे ना सिर्फ पढ़ा बल्कि इसके ज्ञान से वे बहुत प्रभावित भी हुई हैं.

उन्होंने माना की “मुझे वास्तव में लगता है कि यह एक धार्मिक पुस्तक से अधिक है, अगर आपके दिमाग में कोई सवाल है तो गीता में इसका जवाब है”. उन्होंने ने ‘श्रीमद्भागवत गीता’ की महिमा में आगे कहा की “केवल देश में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में गीता का पाठ करवाया जाना चाहिए और इसमें निहित ज्ञान की पूरी दुनिया को आवश्कता है”.

मौनी रॉय ने बॉलीवुड को संदेश दिया

बॉलीवुड के बारे में भी बोलते हुए मौनी ने कहा की “गीता की आवश्यकता केवल भारत या बॉलीवुड या स्कूल में नहीं है बल्कि भारत में यह परिवारों में रूढ़िवादी विचार प्रक्रिया को बदल सकता है”. उन्होंने यह भी कहा की “हम सचमुच अज्ञानता में रहते हैं और हम वास्तव में वेदों और उपनिषद के देश से आते हैं”.

इसे भी पढ़ें:-

बंगाल में माता के मंदिर की भूमि पर बना विशेष समुदाय का कब्रिस्तान

Advertisement

By Sachin

3 thoughts on “मौनी रॉय ने कहा “श्रीमद्भागवत गीता स्कूलों में पढ़ानी चाहिए”, अद्भुत रहस्य भी बताए”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *