मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना वायरस (corona virus) के इलाज़ को फ्री करने का प्लान कर रही है वहां की भाजपा सरकार. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने इस मिशन की पूरी तैयारी कर ली हैं.

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है की ‘जान बचाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता हैं’. उन्होंने आगे कहा की ‘प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रित हुआ हैं. हमें कुछ और दिन सख्ती करके संक्रमण की चेन को पूरी तरह तोड़ना हैं. लोगों की जान बचाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता हैं’. आज मुख्यमंत्री ने अपने निवास से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना नियंत्रण कोर ग्रुप की बैठक में हिस्सा लिया और इस बैठक में संबंधित मंत्री और अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से उपस्थिति हुए. इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने बताया की उन्होंने किस तरह कोरोना (corona) से पीड़ित लोगों का इलाज़ फ्री में करने की तैयारी की हैं.

मिटा देंगें बंगाल से राजनीतिक हिंसा, जेपी नड्डा ने ली शपथ

शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) द्वारा सुचना दी गई की आज से प्रदेश में कोरोना मरीजों के निःशुल्क (free) में इलाज़ के लिए नई योजना लागू की जा रही हैं. इन योजनाओं से जिन लोगों को लाभ मिलेगा इसकी जानकारी देते हुए एमपी (MP) मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा की ‘इन नई योजना के अंतर्गत प्रदेश के गरीब एवं आम आदमी को यहां तक मध्यम वर्गीय व्यक्ति को भी कोरोना का निःशुल्क इलाज अनुबंधित निजी अस्पतालों में मिल सकेगा’.

कैसे उठेंगे आम जन इस योजना का लाभ?

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री ने यह जानकारी भी दी की आम जन इस योजना का लाभ किस तरह उठा सकते हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने बताया की ‘इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आयुष्मान भारत योजना पर निजी अस्पतालों को राज्य सरकार द्वारा विशेष पैकेज दिया जाएगा. सरकार निजी अस्पतालों को कोविड इलाज के लिए अनुबंधित करेगी’.

कंगना रनौत के ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने पर इन बड़े लोगों को हुई ख़ुशी, आप जान लीजिए इनके नाम 

ऑक्सीजन एंव दवाइयों के साथ-साथ इन यह सभी जांचे भी होगी फ्री

शिवराज सिंह ने कहा की ‘इन योजनाओं का लाभ उठाने वाले मरीजों को ऑक्सीजन, दवाइयाँ और इंजेक्शन के साथ-साथ सिटी स्केन जैसी जाँचें भी मुफ्त में होंगी. मुख्यमंत्री ने आगे बताया की इस योजना का लाभ कितने लोग उठाने वाले हैं. शिवराज सिंह ने बहुत बड़े गणित के जरिए बताया की ‘मध्य प्रदेश में अभी तक आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 2 करोड़ 42 लाख कार्ड बनाए गए हैं, जिससे 88 प्रतिशत जनसंख्या शामिल हैं. इन सभी को शासन द्वारा अनुबंधित अस्पतालों में कोरोना का निःशुल्क इलाज़ मिल सकेगा. प्रदेश में वर्तमान में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 328 निजी चिकित्सालय संबद्ध हैं, जिनमें 23 हजार 946 बेड्स उपलब्ध हैं. सरकार द्वारा 5 मई को आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत प्रदेश के 68 निजी चिकित्सालयों को अगले 3 महीने के लिये संबद्ध किया गया हैं’.

आपको बता दें की इस योजना का आप इस उस स्थिति में भी लाभ उठा सकते है जब आपके परिवार के किसी एक सदस्य का कार्ड बना हुआ हो. जी हां मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने खुद इसके बारे में जानकारी दी हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा की ‘सरकार ने निर्णय लिया है कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत यदि परिवार के एक सदस्य के पास आयुष्मान कार्ड है, तो परिवार के अन्य सदस्यों को भी नि:शुल्क (फ्री) उपचार की सुविधा मिल सकेगी.

मुख्यमंत्री मुताबिक जिनका कार्ड नहीं बना है उन्हें भी चिंतित होने की आवश्यकता नहीं हैं. कार्ड नहीं बने हुए मरीजों के कार्ड अस्पताल में भर्ती होने के बाद आपका कार्ड बन जाएगा. शिवराज सिंह ने कहा की ‘कोविड इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती होने पर कलेक्टर उन मरीजों के आयुष्मान कार्ड बनवाने की व्यवस्था करेंगे जिनके पहले ये कार्ड नहीं बने हुए हैं’.

यह भी जरुर पढिए :-

ऑक्सीजन की कमी पर दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ खड़ी हुई केंद्र सरकार

By Sachin

One thought on “मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के इलाज़ को फ्री करने की शिवराज सिंह चौहान ने की पूरी तैयारी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *