Video Viral

सोमवार को उत्तराखंड में स्थित केदारनाथ धाम के कपाट खुलने का वीडियो सामने आया हैं, सोशल मीडिया पर भी तेजी से यह Video Viral हो रहा हैं.

सोशल मीडिया पर तेजी से एक Video Viral हो रहा है, जिसमें देखा जा सकता है की ग्यारवें ज्योतिर्लिंग भगवान केदरनाथ धाम के कपाट खोले जा चुके हैं. बता दें की 18 मई 2021 सोमवार को 3 बजे से केदारनाथ मंदिर के कपाट खोलने की प्रक्रिया आरंभ की गई और मुख्य द्वार पर पूजा अर्चना व मंत्रोचार के बाद ठीक 5 बजे भगवान केदारनाथ मंदिर के कपाट खोल दिए गए.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ही भगवान केदारनाथ धाम में प्रथम रूद्राभिषेक पूजा की और जनकल्याण की कामना भी करी. इस आयोजित समारोह के समय रावल भीमाशंकर, मुख्य पुजारी बागेश लिंग, प्रशासन के कुछ अधिकारी और देवस्थानम बोर्ड भी उपस्थित रहे. बता दें की समारोह में उपस्थित सभी लोगों ने कोरोना के प्रोटोकॉल का बखूबी पालन भी किया.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने भी ट्विट कर अपनी प्रसन्नता जताई, उन्होंने कहा की “विश्व प्रसिद्ध ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग भगवान केदारनाथ धाम के कपाट आज सोमवार को प्रातः 5 बजे विधि-विधान से पूजा-अर्चना और अनुष्ठान के बाद खोल दिए गए. मेष लग्न के शुभ संयोग पर मंदिर का कपाटोद्घाटन किया गया. मैं बाबा केदारनाथ से सभी को निरोगी रखने की प्रार्थना करता हूं”.

CM ने एक अन्य ट्विट कर कहा की “केदारनाथ के रावल (मुख्य पुजारी) आदरणीय श्री भीमाशंकर लिंगम् जी की अगुवाई में तीर्थ पुरोहित सीमित संख्या में मंदिर में बाबा केदार की पूजा व अर्चना नियमित रूप से करेंगे. मेरा अनुरोध है कि महामारी के इस दौर में श्रद्धालु घर में रहकर ही पूजा-पाठ और धार्मिक परंपराओं का निर्वहन करें”. बताया जा रहा है की कपाट खुलने के इस शुभ अवसर पर केदारनाथ धाम मंदिर 11 क्विंटल फूलों से सजाया भी गया.

केदारनाथ धाम के अलावा उत्तराखंड में उत्तराखंड में स्थित बदरीनाथ धाम के कपाट को 18 मई की सुबह शुभ महूर्त सवा चार बजे खोल दिये गए. इस दौरान सीमित संख्या में ही लोग मौजूद रहे और श्रद्धालुओं को आने की अनुमति अभी नहीं होगी. बता दें की भगवान बदरीनाथ मंदिर भी को बेहद खूबसूरत तरीके से सजाया गया है.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

Video Viral: हिंदुओं कलमा पढ़ मुसलमान हो जाओ, मौलवी ने नरसिंहानंद के खिलाफ़ उगला

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *