अली

अरी नामक किसान की गुडियाथम में दो मां बनने वाली गायों को पहले चोरी किया और फिर मार डाला, इस घटनों को मुबारक अली और रफ़ीक दिया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तमिलनाडू के गुडियाथम में दो मां बनने वाली गायों को मौत के घाट उतार दिया गया, दोनों गायें स्थानीय किसान अरी की बताई जा रही है. मुबारक अली और रफ़ीक ने पहले गायों को आधी रात में अरी के घर के बाहर के शेड से चोरी कर लिया और फिर उन्हें बेरहमी से मार डाला गया. अरी ने गायों के कटे पैर और सर की पहचान कर इसकी पुष्टि करी.

शुरू से बात करें तो अरी ने अपने घर के बाहर शेड में अपनी गायों को बाँधा था, अगले जब उसने गायों को वहाँ से गायब पाए तो किसान अरी उन दोनों की तलाश में निकल गया. बताया जा रहा है की गायों के चोरी होने से पहले ही वहां बारिश हुई थी, जिसका लाभ उठाते हुए अरी ने गायों के पैरों के निशानों का पीछा किया और पीछा करते करते वहां के क़ैद-ए-मिल्लत नगर तक पहुंच गया. जहां उसने अपनी गायों के शरीर के कटे हुए अंगों को पाया.

अरी ने स्थानीय गांव वालों के साथ मिलकर चित्तूर रोड पर प्रदर्शन शुरू कर दिया, यह प्रदर्शन वहां के सभी कसाइयों के खिलाफ़ था. प्रदर्शन के कारण लगभग एक घंटे तक वहां नाकाबंदी रही. प्रशासन को जानकारी मिलने के बाद उपाधीक्षक श्रीधरन, नगर पुलिस निरीक्षक श्रीनिवासन, तालुका निरीक्षक सुरेशबाबू, उप निरीक्षक सिलंबरासन और शिवचंद्रन ने प्रदर्शन स्थल पर पहुंचकर भीड़ को शांत किया और अपराधियों को गिरफ्तार करने का वचन भी दिया.

जिसके बाद पीड़ित किसान अरी ने गुडियाथम तालुका पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई और इंस्पेक्टर सुरेश बाबू ने शिकायत की जाँच के आदेश भी दे दिए. जांच के दौरान पुलिस को मालुम पड़ा की एक पुलिस अधिकारी का बेटा मुबारक अली व रफ़ीक और गुड़ियाथम के चित्तूर गेट क्षेत्र की एक कसाई दुकान के मालिक ने मिलकर गायों की चोरी की और फिर हत्या कर दी गई.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

गौहत्या करने पर ग्राम प्रधान रकमुद्दीन समेत 5 गिरफ्तार

Leave a Reply

%d bloggers like this: