किसान आन्दोलन

किसान आन्दोलन पर योगी आदित्यनाथ ने आज विपक्ष से बहुत नाराज दिखाई दिए. योगी बोले ‘माहौल ख़राब ना करें विपक्ष, किसी भी विपक्षी पार्टी को किसानों के कंधों पर बन्दुक रखकर गोली चलाने की जरूरत नहीं हैं’.किसान आन्दोलन

आपको बता दें की 8 दिसम्बर 2020 को किसानों ने अपने आन्दोलन में सबसे बड़ा कदम उठाते हुए भारत बन्द का आवाह्न किया हैं. जिस पर देश की तकरीबन 24 विपक्षी पार्टियों ने समर्थन किया हैं. इसमें मुख्य रूप से कोंग्रेस, आम आदमी पार्टी, NCP और TMC जैसी पार्टियाँ शामिल हैं. ईसी बात से नाराज योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सभी विपक्षी पार्टियों को लपेटे में लिया.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज विपक्ष पर जमकर हमला किया. योगी ने कहा की ‘साल 2010 में तत्कालीन क्रषि मंत्री शरद पंवार ने किसानों के हित में APMC कानून को देश में लागु करने के लिए वकालत किए थे, और आज ईसी कानून के विरोध में शरद पंवार खड़े हो गए’.

इस पर योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा की ‘जो बिल यूपीए सरकार लाए वो सब सही और भारतीय जनता पार्टी के सारे बिल या कानून गलत? यह सिर्फ़ देश में माहौल ख़राब करने की कौशिश हैं, और विपक्ष को में कहना चाहूँगा की देश में माहौल ख़राब करने की कौशिश ना करें विपक्ष’.

विपक्षी दलों को देश वासियों से माफ़ी मांगनी की मांग – योगी आदित्यनाथ

केन्द्र सरकार के द्वारा लागु किए गए नए क्रषि कानून के विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में लगभग पूरा विपक्ष आ चूका हैं. ईसी बात से नाराज योगी आदित्नाथ ने विपक्षी पार्टियों को सलाह दी की सभी विपक्षी दलों को अपने इस रवैय के लिए देश वासियों से माफ़ी मांगनी चाहिए.किसान आन्दोलन

योगी आदित्यनाथ ने कहा की ‘जब 2010 में यूपीए की सरकार ईसी बिल को लेकर आ रही थी तब यूपीए के समर्थन वाली सभी पार्टियों ने इसका समर्थन किया लेकिन आज भाजपा ईसी कानून को लाने जा रही हैं तो यह सभी पार्टियाँ इसका विरोध कर रही हैं, देश वासियों के साथ किए गए इस रवैय के लिए विपक्षी दलों को देश वासियों से माफ़ी मांगनी चाहिए’.

यह भी पढ़ें :-

भारत बन्द के बावजूद 8 दिसम्बर को खुले रहेंगे यह स्थान

One thought on “किसान आन्दोलन पर बोले योगी आदित्यनाथ कहा ‘माहौल खराब ना करें विपक्ष’”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: