टीएमसी नेता सुजाता खान

टीएमसी नेता सुजाता खान

बंगाल में चल रहे विधानसभा के चुनाव प्रचार के दौरान टीएमसी नेता सुजाता खान का एक बेहद ही शर्मनाक बयान सामने आया है. दरअसल एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में सुजाता खान ने अनुसूचित जाति को लेकर अपशब्द कह दिए. जिसके बाद बीजेपी नेताओ ने सुजाता खान के इस बयान पर चुनाव आयोग में आपत्ति दर्ज कराई है.

बंगाल के आरामबाग विधानसभा सीट से टीएमसी प्रत्याशी सुजाता खान ने एक टीवी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में कह दिया कि अनुसूचित जाति के लोग स्वभाव से भिखारी होते हैं. ममता बनर्जी ने उनके लिए इतना कुछ किया, लेकिन फिर भी ये लोग चंद पैसों के लिए बीजेपी के पीछे-पीछे हो रहे हैं. वो पैसो के लिए बीजेपी को अपना वोट बेच रहे हैं.

सुजाता खान इतने पर ही नहीं ठहरी आगे उन्होंने कहा कि एक कहावत है कुछ लोग परिस्थतियों के कारण तो कुछ स्वभाव से भिखारी होते है. अनुसूचित जाति वाले स्वभाव से भिखारी होते है. टीएमसी नेता सुजाता खान के इस बयान पर बीजेपी नेताओ ने कड़ा विरोध जताया और चुनाव आयोग में इस बाबत शिकायत भी दर्ज करवाई.

चुनाव आयोग ने सुजाता खान के इस विवादित बयान का संज्ञान लेते हुए उन्हें नोटिस जारी किया है और साथ उन्हें 24 घंटे के भीतर जवाब माँगा है. अगर वह ऐसा नहीं करती है तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. और साथ ही सुजाता खान का स्टार प्रचारक का दर्जा भी छीन लिया जाएगा.

पीएम नरेन्द्र मोदी ने भी सुजाता खान के इस बयान को लेकर चुनाव प्रचार के दौरान एक रैली में सवाल उठाया था. पीएम मोदी ने एक रैली के दौरान कहा कि एक विडियो सामने आया है जिसमे ममता दीदी की एक करीबी नेता ने एससी समुदाय के लोगो का बहुत बड़ा अपमान किया है. मोदी ने कहा कि दीदी की पार्टी के लोग बंगाल के अनुसूचित समुदाय के भाई बहनों को भिखारी समझते है.

ये भी पढ़े-सउदी अरब में पढ़ाई जा रही है रामायणं और महाभारत, जानिए पूरी रिपोर्ट

One thought on “टीएमसी नेता सुजाता खान का बेहूदा बयान, कहा अनुसूचित जाति वाले भिखारी”

Leave a Reply

%d bloggers like this: