बीजेपी नेता

बीजेपी नेता दिलीप घोष आए दिन अपने बयानों के कारण सुर्खियां बटोरते रहते हैं. एक मंच पर पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष दिलीप घोष अब हिन्दू देवी देवताओं के बारे में बोल कर विवादों के घेरे में घिर चुके हैं.

बीजेपी नेता

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष दिलीप घोष आज पश्चिम बंगाल के मदनापुर में एक प्रोग्राम में मुख्य अतिथि शामिल हुए. कार्यक्रम (प्रोग्राम) में जब जनता को दिलीप घोष ने सम्बोधित किया तो वह बोलने में इतना खो गए की हिन्दू देवी देवताओं के बारे में बहुत कुछ कह गए. उन्होंने हिन्दू देवी देवताओं के बारे बहुत बड़ी बात बोली जो की आज कोई राजनेता नहीं बोल पाए.

बीजेपी नेता

दरअसल हन्दू जागरण मंच द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में दिलीप घोष हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए हथियार उठाने की बात कर रह थे. जिस पर उन्होंने देवी देवताओं के बारे में बात करते हुए कहा की ‘हमारे यहां किसी देवी देवता को खाली हाथ नहीं दिखाया जाता, उनके हाथों में हथियार दिखाए गए है. ऐसे में अगर हम भी हिन्दू धर्म की रक्षा और हिन्दू धर्म के अस्तित्व को बचाने के लिए हथियार उठाएं तो गलत नहीं होगा’.

बीजेपी नेता

दिलीप घोष ने कहा की ‘हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए हथियार उठाना गलत नहीं होगा. हम लोग हिन्दू धर्म के लिए अपनी माँ, बहनों की रक्षा के लिए हथियार उठाना में समर्थ हैं’. इस बयान को देने के बाद से ही दिलीप घोष विवादों से घिरे हुए हैं. ऐसा नहीं है की बीजेपी नेता दिलीप घोष ने पहली बार कुछ विवादित बयान दिया हैं.

आपको बता दें की इस से पहले भी दिलीप घोष मंच पर बहुत ही तेज और विवादित बयान देते आए हैं. अभी कुछ दिनों पहले ही एक मंच पर लोगों को सम्बोधित करते हुए भाजपा के बंगाल अध्यक्ष दिलीप घोष ने TMC को चेतावनी देते हुए कहा की ‘हम तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के हाथ, पैर और सिर तोड़ देंगे’.

बीजेपी नेता

बीजेपी नेता दिलीप घोष आगे कहते है की ‘दीदी के भाई लोग सुधर जाएं, वरना अगले 6 महीने में उनका हाथ, पैर, पसली और सिर तोड़ दिए जाएंगे’.

यह भी पढ़ें :-

मथुरा के आरएसएस कार्यालय पर एक महीने के अन्दर मुसलमानों ने किया तीसरा बड़ा हमला

Leave a Reply

%d bloggers like this: