रोहित सरदाना

भारत के सबसे मशहूर पत्रकारों में से एक आज तक के न्यूज़ एंकर रोहित सरदाना का आज हार्ट अटैक से निधन हो गया. रोहित सरदाना कोरोना संक्रमित भी थे जिसके चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. रोहित जी न्यूज़ के शो ताल ठोक के और आज तक पर दंगल जैसे डिबेट शो से काफी मशहूर हुए थे.

रोहित सरदाना

रोहित सरदाना के निधन की ख़बर आते ही सोशल मिडिया पर शोक की लहर दौड़ गयी. लोग उन्हें सोशल मिडिया के जरिए श्रद्धांजलि दे रहे है. हालाँकि इस ख़बर के सामने आते ही कुछ कट्टरपंथियों सोशल मिडिया पर रोहित के निधन पर जश्न मनाना शुरू कर दिया और रोहित सरदाना के बारे में अनाप शनाप बाते कह दी.

रोहित सरदाना

इंडिया टुडे के एंकर राजदीप सरदेसाई ने रोहित सरदाना के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए ट्वीट किया तो उस पर खुद को एक्टिविस्ट कहने वाले एक व्यक्ति शरजील उस्मानी ने लिखा, “मनोरोगी। मनोविकारी झूठा, नरसंहार को बढ़ावा देने वाला, उसे कभी भी एक पत्रकार के रूप में याद नहीं किया जाएगा.

रोहित सरदाना

इरफ़ान बशीर वानी नाम के एक व्यक्ति ने फेसबुक पर लिखा वो मुस्लिमो के खिलाफ हेट फैला रहा था. वो पिछले साल वो तब्लीगियो के खिलाफ भौंक रहा था. वैसे जरुरी तो बंगाल चुनाव रैली और कुंभ भी नहीं था जो कोरोना फैलने का कारण बने. अल्लाह ने उसके लिए योजना बनाई और उसे नरक के लिए चुना.

वसीम ने लिखा एक हेट फ़ैलाने वाले का चेप्टर क्लोज हो गया. अक्स नाम के एक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि मुस्लिमो को पाकिस्तान भेजने वाला खुद जहन्नुम चला गया. वो नरक में जरुर खास जगह पर मजे कर रहा होगा. आरिफ नक्शबंदी नाम के व्यक्ति ने लिखा अगर रोहित के निधन की ख़बर सही है तो मुझे कोई सहानुभूति नहीं है. वो एक घृणा फ़ैलाने वाला व्यक्ति था. जो झूठ परोसता था.

ये भी पढ़े- रोहित सरदाना की मृत्यु कोरोना से नहीं हुई, जानिए क्या है पत्रकार की मृत्यु की असली वजह?

 

One thought on “रोहित सरदाना के निधन पर कट्टरपंथियों ने मनाया जश्न”

Leave a Reply

%d bloggers like this: