यमुना

आप आदमी पार्टी के प्रमुख सीएम अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी आम आदमी पार्टी (AAP) से जुड़े वीडियो दिल्ली बीजेपी (Delhi BJP) द्वारा साझा किया जाते रहते हैं।

प्राप्त जानकारियों के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अक्सर सोशल मीडिया और नेशनल मीडिया में सुर्खियों में बने रहते हैं। उनके कई पुराने वीडियो के कारण भी उन्हें ट्रोल किया जाता रहा है।, जिसमें उनकी हिंदुओं से घृणा वाले कुछ वीडियो भी बताए जा रहे हैं। वहीं इसी क्रम में 15 अक्टूबर 2022 को दिल्ली बीजेपी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया गया जिसमें ‘ यमुना ‘ नदी के विषय पर अरविंद केजरीवाल के झूठे वादों का खुलासा किया हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के झूठे वादें उजागर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप है कि वह यमुनाजी सफ़ाई के विषय पर दिल्लीवासियों का पागल बनाते आए हैं। ऐसे ही वीडियो क्लिप कंबाइंड ( Combined) करके दिल्ली बीजेपी (Delhi BJP) द्वारा साझा की गई वीडियो में हैं। जिसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल वर्ष 2015 में कहते हुए नज़र आते हैं, “यमुनाजी को साफ़ किया जाएगा, यमुनाजी साफ़ कर सकते हैं, यमुना हमारे लिए पवित्र नदी हैं। यमुनाजी के दोनों तटों पर छोटी छोटी झील बनाई जाएगी और मुझे उम्मीद हैं। आप मुझे 5 साल दीजिए, 5 साल में यमुना को इतना खूबसूरत बना देंगे कि आप अपने बच्चों के साथ यमुना नदी के तट पर पिकनिक मनाने यमुना के तट पर जाना शुरू करेंगे।”

यमुना में डुबकी लगवाना रहा फेल

वहीं वीडियो में आगे 2016 की वीडियो क्लिप में वह कहते हुए दिखाई देते हैं, “दिल्ली सरकार की तरफ़ से मैं कहना चाहता हूं कि यमुनाजी को साफ़ करने के लिए हम पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।” इसी क्रम में 2019 की वीडियो क्लिप में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कहते है, “अगले चुनाव के पहले यह केवल चुने हुए 5 साल के अंदर आपके सारे गांव को ले जाके यमुनाजी में डुबकी लगवा दूंगा मैं”

वहीं 2020 को वीडियो क्लिप में वह कहते है , “यमुना को साफ़ किया जायेगा और अक्सर जैसा मैं कहता हूं कि 5 साल तो लगेंगे लेकिन 5 साल के अंत में आप सबको यमुना में डुबकी तो जरूर लगवा दूंगा मैं।”

कोरोनेशन प्लांट से होगी यमुना की सफाई

गौरतलब हैं की जून 2022 में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यमुनाजी विषय पर कहते हुए कहा कि यमुना की सफाई को लेकर गंभीर है दिल्ली सरकार और देश के सबसे बड़े कोरोनेशन प्लांट से यमुना साफ़ होगी। इस योजना से दिल्ली में पानी की मांग भी पूरी करने में मदद मिलेगी। दरअसल कोरोनेशन एसटीपी से पानी एडवांस ट्रीटमेंट प्लांट में लाया जाएगा। इसके बाद यह पानी यमुना के जरिए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में भेजा जाएगा और 50-60 एमजीडी पानी पीने में इस्तेमाल हो सकेंगे।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

सीएम केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया तुलना ‘भगत सिंह’ से की, फिर जो हुआ….

%d bloggers like this: