अडानी

आपने दानवीर कर्ण के बारे में सुना होगा, लेकिन कलयुग में भी उनके जैसे की एक दानवीर सामने आए हैं। जिनका नाम है गौतम अडानी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अडानी समूह के मुखिया गौतम अडानी ने अपने 60वें जन्मदिन पर एक बड़ा ऐलान किया है। गौतम अडानी ने बताया है कि अडानी परिवार हेल्थ केयर, एजुकेशन और स्किल डेवलपमेंट में उपयोग के लिए 60,000 करोड़ रुपये दान करेगा। अडानी समूह के इस कदम से आईटी कंपनी विप्रो के फाउंडर और अजीम प्रेमजी भी प्रभावित हुए हैं। वहीं अजीम प्रेमजी को देश का सबसे बड़ा दानवीर माना जाता है।

आपको बताते चलें की दुनिया के बड़े रईस अरबपतियों में शुमार गौतम अडानी ने कहा “देशभर में हेल्थ केयर, एजुकेशन और स्किल डेवलपमेंट को बढ़ाने में योगदान करने का मौका मिला है, इससे खुश हूं। मेरे 60 वें जन्मदिन के अलावा, यह वर्ष हमारे प्रेरक पिता शांतिलाल अडानी की 100वीं जयंती का भी है। यह उस योगदान को और अधिक महत्व देता है जो हम एक परिवार के रूप में दे रहे हैं।”

गौरलतब है की अडानी ने बताया कि 60 हजार करोड़ रुपये का दान हमारे ‘ग्रोथ विथ गुडनेस’ की सोच को पूरा करने की दिशा में एक कदम है। वहीं इस मौके पर अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के अध्यक्ष व विप्रो लिमिटेड के संस्थापक अध्यक्ष अजीम प्रेमजी ने कहा “हमारे देश की चुनौतियों और संभावनाओं की मांग है कि हम धन, क्षेत्र, धर्म, जाति और बहुत कुछ के सभी विभाजनों को अलग कर के, एक साथ मिलकर काम करें। मैं इस जरूरी राष्ट्रीय प्रयास में गौतम अडानी और उनके फाउंडेशन को शुभकामनाएं देता हूं।”

बता दें की अरबपतियों में शुमार गौतम अडानी जी ने एक इंटरव्यू में कहा “भारत के डेमोग्राफिक एडवांटेज की क्षमताओं का उपयोग करने के लिए, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा और कौशल विकास के क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है। इनमें से प्रत्येक क्षेत्र में कमी ‘आत्मनिर्भर भारत’ के लिए बड़ी बाधा है। अडानी फाउंडेशन को इन सभी क्षेत्रों में काम करने का अनुभव है।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

Sachin Tendulkar कोरोना से लड़ाई में दिया बड़ा योगदान, इतने करोड़ किए डोनेट

%d bloggers like this: