AAP नेता

अखिलेश यादव ने AAP नेता संजय सिंह से हाल ही में भेंट की है, 2022 के यूपी चुनाव में सपा केजरीवाल के free मोडल वाले फोर्मुले से उतर सकती है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश में आगामी 2022 के विधानसभा चुनावों में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी फ्री मोडल वाले फोर्मुले के साथ रण में उतर सकती हैं, यह फार्मूला वर्ष 2020 में हुए दिल्ली आम चुनावों में अरविंद केजरीवाल ने प्रयोग किया और परिणाम स्वरूप फ्री के चक्कर में दिल्ली की जनता ने आम आदमी पार्टी को विधानसभा चुनावों में तगड़ी जीत भी दिलाई थी. सपा के आलाकमान अखिलेश भी वैसे ही फ्री बिजली की घोषणा कर सकते हैं.

गौरतलब है की समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने हाल ही में AAP नेता संजय सिंह से मुलाकात करी है, जिसके बाद से ही फ्री मोडल वाली खबरों को हवा मिली हैं. लोगों की इन अटकलों को गलत बताते हुए दोनों दलों के नेताओं ने गलत ठहराते हुए बताया की यह मीटिंग शिष्टाचारी मुलाकात के अलावा कुछ भी नहीं है. बता दें की संजय सिंह आम आदमी पार्टी के वही नेता हैं जिसने कुछ दिनों पहले ही अयोध्या बन रहे भव्य श्री राम मंदिर निर्माण को रोकने के लिए योगी सरकार पर आरोप मड़ा था.

इस बार यूपी चुनाव पर पुरे देश की नजर गढ़ी हुई  है, ऐसे में सभी दल इस चुनाव में अपनी भूमिका को सक्रिय करना चाहते हैं. इसीलिए आम आदमी पार्टी के कुछ नेता पिछले 1 साल से राज्य में सक्रिय हैं और इसी क्रम में संजय सिंह उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर आरोप लगा रहे हैं. यूपी जनसंख्या की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य और UP विधानसभा में कुल 426 सीटें हैं, जिन पर साल 2022 की शुरुआत में आम चुनाव होने जा रहे हैं.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

धर्मांतरण राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला, भाजपा 300 सीटें जीतेगी: CM योगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: