अयोध्या

राम मंदिर को अब तक 54 अरब से भी अधिक धनराशी दान में मिली तो वहीं अयोध्या में ही 5 एकड़ में बनने वाली मस्जिद को सिर्फ 20 लाख का चंदा मिला.

वर्ष 2019 के नवंबर में देश के सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या में श्री राम जन्म भूमि पर ऐतिहासिक फैसला सुनाया, इसमें विवादित भूमि तो श्री राम को मिली और धार्मिक भावनाओं को भी मध्य नजर रखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इसी शहर की 5 एकड़ की जमीन मस्जिद को सौंप दी थी.

अयोध्या

अयोध्या में राम मंदिर को अरबों रुपय मिले

सुप्रीम कोर्ट ने फैसले के बाद से ही श्री राम मंदिर का निर्माण कार्य हेतु रणनीति तैयार होनी शुरू हो गई, इसके लिए एक ट्रस्ट का भी गठन किया गया. बता दें की इसी वर्ष जनवरी महीने से ‘राम मंदिर निधि समर्पण अभियान’ को शुरू किया गया.

यह अभियान 44 दिनों तक चलाया गया, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने मीडिया को बताया कि पूरे अभियान में केवल 44 दिन में 2500 करोड़ रुपए से ज्यादा जमा हुए और अगर कुल मिलाकर बात की जाए तो अब तक 5457.94 करोड़ की धनराशि मंदिर के निर्माण हेतु एकत्र हो चुकी है.

अयोध्या में मस्जिद के लिए सिर्फ 20 लाख का चंदा

मंदिर निर्माण के अलावा यदि दुसरे पक्ष यानि मस्जिद के निर्माण हेतु चंदे की बात करें तो मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अब सिर्फ 20 लाख रुपय का चंदा ही जुटा पाई हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद धनीपुर में मस्जिद के निर्माण के लिए वक्फ बोर्ड ने फरवरी 2020 में ‘इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन ट्रस्ट’ यानि की IICF का गठन किया.

कम धनराशी जमा होने के कारण मस्जिद के पूर्व पक्षकार इक़बाल अंसारी ने ट्रस्ट पर सवाल खड़ा कर दिया, उन्होंने कहा की “IICF एक निजी ट्रस्ट है इसलिए लोग उन पर विश्वास नहीं कर रहे। अभी तक इस काम के लिए IICF सिर्फ 20 लाख रुपए ही जुटा पाई है”.

इसे भी जरुर पढ़ें:-

अमित शाह को मारने का बन चूका है प्लान, जानिए कब और कहां?

By Sachin

5 thoughts on “अयोध्या में राम मंदिर को 54 अरब से भी अधिक और मस्जिद को सिर्फ 20 लाख”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *