बंगलादेशी

सोशल मीडिया पर एक बंगलादेशी मदरसे के नाबालिग छात्र का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें उसकी मानसिकता स्पष्ट दिखाई दे रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसे बांग्लादेश का बताया जा रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक नाबालिग बच्चा सिर्फ इसलिए बांग्लादेशी क्रिकेटर सौम्य सरकार से नहीं मिलना चाहता है, क्योंकि वो हिंदू हैं। आप भी इस वीडियो देखिए, जिसमें लड़के ने सीधे मुंह इस तरह की बात कह डाली:-

आपको बताते चलें कि यह वीडियो ‘वॉइस ऑफ बांग्लादेशी हिंदू’ नाम के ट्विटर पेज से शेयर की गई है। इसके मुताबिक, वीडियो में दिख रहा बच्चा बांग्लादेश के एक मदरसे में पढ़ता है। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक रिपोर्टर बच्चे से पूछता है कि वह किस क्रिकेटर से मिलना चहता है? इसका जवाब देते हुए कहता है, “मैं मुश्फिकुर, मुस्तफिजुर रहमान, तासकीन अहमद और सैरिफुल से मिलना चाहता हूँ।”

वहीं रिपोर्ट ने उससे सौम्य सरकार के बार में पूछता है। इस पर बच्चा कहता है, “सौम्य सरकार तो हिंदू क्रिकेटर है। मैं उससे नहीं मिलना चाहता।” इस वीडियो के सामने आने के बाद लोग मदरसा और उसमें दी जाने वाली कट्टरपंथी तालीम पर सवाल उठा रहे हैं और उसे शर्मनाक बता रहे हैं। एक यूजर ने लिखा, “बांग्लादेश तो पाकिस्तान से भी बदतर लग रहा है। बस कभी उतना न्यूज में नहीं आता, जितना पाकिस्तान।”

इसके साथ-साथ सोशल मीडिया पर ओर भी कई प्रतिक्रिया आई हैं, एक अन्य सूजर ने लिखा, “यहाँ तक ​​कि मुस्लिम बच्चे भी अपने मजहबी जुड़ाव के बारे में काफी स्पष्ट हैं। केवल हिंदू ही भ्रमित हैं। इनका सदियों से ब्रेनवॉश किया जा रहा है। यह नहीं जानते कि शैतान कभी नहीं बदलता और अंततः मूर्ख हिंदुओं को खा जाएगा।” वेदांत ने लिखा, “यह मुस्लिमों की सामान्य सोच है। वे अपने DNA के अंदर इसे कभी नहीं बदलेंगे। बहुत कम लोग इस बीमारी से उबर पाए हैं।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

संगीत रागी बोले –अवैध रूप से भारत आए बंगलादेशी मुसलमानों को देश में कोई जगह नहीं

%d bloggers like this: