आनन्द स्वरूप शुक्ला

योगी जी सरकार में मंत्री और भाजपा नेता आनन्द स्वरूप शुक्ला ने मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकरों से होने वाली अजान पर आपत्ति जताते हुए जिलाधिकारी को पत्र लिखा.

आनन्द स्वरूप शुक्ला

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के बाद अब बलिया में भी लाउडस्पीकर से होने वाली अजान के विरुद्ध आवाज उठी है और यह आवाज ओर किसी ने बल्कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के मंत्री मंडल के सदस्य और भाजपा नेता आनन्द स्वरूप शुक्ला ने उठाई है, आनन्द स्वरूप शुक्ल वर्तमान राज्य सरकार के ‘संसदीय कार्य एवं ग्राम्य विकास एंव समस्त ग्राम विकास विभाग उत्तर प्रदेश’ मंत्री पद पर हैं.

आनन्द स्वरूप शुक्ल को लाउडस्पीकर पर अजान से हुई आपत्ति

यूपी में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के मंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल को लाउडस्पीकर पर अजान से इतनी अधिक आपत्ति हुई की उन्होंने जिलाधिकारी को इस समस्या के विषय में एक पत्र लिख दिया, उनका कहना है की इसके शोर के कारण उन्हें योग, ध्यान, पूजा पाठ व शासकीय कार्यों में समस्या उत्पन्न होती है.

आनन्द स्वरूप शुक्ल ने जिलाधिकारी को पत्र लिखा

योगी सरकार ने मंत्री ने जिलाधिकारी को भेजे गए पत्र में लिखा की “बलिया में स्थित मस्जिदों में नमाज के दौरान अजान, दिन भर लाउडस्पीकर के माध्यम से मजहबी प्रचार-प्रसार, मस्जिद निर्माण के लिए चंदा एकत्र करने एवं विभिन्न प्रकार की सूचनाओं को अत्यधिक तेज आवाज में प्रसारित किया जाता है, जिससे छात्र-छात्राओं के पठन-पाठन एवं बच्चों, बुजुर्ग व बीमार लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है, जनमानस को अत्यधिक ध्वनि प्रदूषण का भी सामना करना पड़ रहा है”.

अपने पत्र में उन्होंने आगे लिखा की “मेरे विधानसभा क्षेत्र में स्थित मदीना मस्जिद काजीपुर, थाना कोतवाली के समीप कई शैक्षणिक संस्थान हैं, जिसमें सेंट जोसेफ, महर्षि विद्या मंदिर, सतीश चंद्र महाविद्यालय आदि में अध्यनरत विद्यार्थियों को लाउडस्पीकर की तेज आवाज के कारण पठन-पाठन में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है, मस्जिद में पाँचों वक्त नमाज की अजान और सारा दिन अन्य सूचनाएँ प्रसारित की जा रही है, जिससे होने वाले शोर के कारण मेरे योग, ध्यान, पूजा-पाठ व शासकीय कार्यों में व्यवधान उत्पन्न होता है”.

मंत्री ने अपने पत्र में सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों का ध्यान दिलाया, उन्होंने जिलाधिकारी से कहा की “जिन मस्जिदों में परमिशन से ज्यादा लाउडस्पीकर लगे हैं, उन्हें तत्काल हटवाया जाए, साथ ही लाउडस्पीकर की आवाज को सीमित करवाते हुए गाइडलाइन का पालन कराया जाए”.

इसे भी पढ़ें:-

गोवा में लाउडस्पीकर से अजान पर रोक, हाईकोर्ट ने जारी किए आदेश

Leave a Reply

%d bloggers like this: