https://www.newscup.in/?p=2210&preview=true

बंगाल हिंसा की चपेट में आया एक ओर गांव, भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार वैज्ञानिक गोबर्धन दास के घर को घेर TMC के गुंडों ने बम भी फेंकें.

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों के नतीजों के बाद से ही हिंसा की लगातार खबरें सामने आ रही हैं, हिंसक आक्रान्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी के साथ – साथ कोंग्रेस और वामपंथी दल को भी निशाना बनाया हैं. बता दें की हिंसा के शिकार हुए सभी लोगों ने इसके लिए TMC और उसके गुंडों पर आरोप लगाया है, मगर ममता बनर्जी ने इन सब आरोपों को ख़ारिज करके उल्टा भाजपा पर आरोप लगाया.

भाजपा के उम्मीदवार और वैज्ञानिक गोबर्धन दास पर हमला

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के पश्चिम बंगाल के पूर्बस्थली उत्तर से उम्मीदवार वैज्ञानिक गोबर्धन दास पर हमले की खबर सामने आई है, बता दें की उनके घर को घेर कर बम भी फेंकें गए हैं और दंगा करने वालों ने घर पर तोड़ फोड़ भी मचाई, उस गाँव में भाजपा कार्यकर्ताओं के कई घरों को ध्वस्त किया गया है और तोड़फोड़ मचाई गई है.

इस बिच वैज्ञानिक आनंद रंगनाथन ने सोशल मीडिया के जरिए गृह मंत्री अमित शाह से गोबर्धन दास की सुरक्षा की भी मांग करी है. आनंद रंगनाथन ने कहा की “बमबारी के बीच वे घिरे हुए हैं, इसके बाद उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्रालय से मदद माँगी, जिस पर संज्ञान लिया गया और कार्रवाई का आश्वासन दिया गया”.

गृह मंत्रालय ने दिया CRPF का आश्वासन

गृह मंत्री अमित शाह से सुरक्षा की मांग ने बाद गृह मंत्रालय ने वैज्ञानिक आनंद रंगनाथन को CRPF का आश्वासन दिया और कहा की CRPF जल्द ही उनके गाँव पहुंच जाएगी. बता दें की गोबर्धन दास JNU में मॉलिक्यूलर मेडिसिन में प्रोफेसर हैं, इसके अलावा वे अमेरिका के हस्टन मेथोडिस्ट हॉस्पिटल में बतौर ‘पैथोलॉजी एंड जीनोमिक मेडिसिन’ के एडजसेन्ट प्रोफेसर भी कार्यरत हैं.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

बंगाल हिंसा में 11 की मौत, मां काली और हनुमान प्रतिमाओं को भी तोड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: