प्रोफेसर

कतर के प्रोफेसर ने इस्लामी ज्ञान देते हुए कहा, “अल्लाह के पास बुलाओ, इस्लाम न कबूले तो जजिया वसूलो” उन्होंने यह भी कहा, “इनकार करे तो जंग लड़कर मार डालो”

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कतर यूनिवर्सिटी में इस्लामी स्टडीज करवाने वाले प्रोफेसर डॉ शफी अल हाजरी ने 25 नवंबर 2022 को अल-रय्यन टीवी पर एक बयान दिया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि इस्लाम को फैलाने का तीसरा और आखिरी कदम केवल जंग है। डॉ अल हाजरी ने यह भी कहा पहले लोगों को हमारे इस्लाम में आने के लिए बुलाओ। वो यदि न आएँ तो फिर उन्हें जिंदा रहने के लिए जजिया देने को कह दो। देखें वीडियो:-

प्रोफेसर डॉ शफी अल हाजरी ने अपने बयान को जारी रखते हुए आगे कहा कि वो जजिया देने से भी मना करें तो उन पर बिन कोई दया करते हुए उन्हें मार डालो। बताया यह भी जा रहा है कि जजिया एक कर यानि टेक्स की तरह होता है जिसे गैर मुसलमानों से राज्य या इस्लामिक देश में उनकी सुरक्षा के नाम पर माँगा जाता है। इसी जजिया के नाम पर हमारे भारत में भी लंबे समय तक मुगलों ने हिंदुओं का भरपूर शोषण भी किया था।

अपने बयान में प्रोफेसर डॉ शफी अल हाजरी ने यह भी कहा, “जंग, दावत का तीसरा चरण है। पहले हम अल्लाह के पास लोगों को बुलाते हैं। वो आते हैं तो उनके पास वही अधिकार होते हैं जो हमारे पास हैं। अगर वो नहीं आते तो उन्हें जजिया देना चाहिए। जजिया इसलिए ताकि वो दूसरों से सुरक्षित रह सकें। तीसरा चरण होता है कि अगर वो जजिया देने से भी मना करें तो उनसे जंग की जाए।” बहरहाल भारत में इस प्रोफेसर के बयान का कितना असर होगा, इसके बारे हम कुछ नहीं कह सकते।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

अब सऊदी अरब के प्रिंस ने भी दे दी जिहाद करने की धमकी, वीडियो आया सामने

%d bloggers like this: