CM योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री CM योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या को विकसित नगर बनाने के लिए नई घोषणा करी हैं, जिसमें कई बड़े कार्य भी शामिल है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार CM योगी आदित्यनाथ ने घोषणा करी की राम नगरी अयोध्या को एक धार्मिक, वैदिक और सोलर शहर में बदला जाएगा, इसलिए अब ये भी स्पष्ट हो गया है की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व रखने वाली अयोध्या नगरी भी एक वैश्विक पर्यटन स्थल बनने के साथ एक समावेशी शहर के रूप में विकसित होने वाली हैं.

बता दें की 12 जून यानि शनिवार को मुख्यमंत्री निवास में अयोध्या नगर को लेकर विजन डॉक्यूमेंट के प्रेजेंटेशन के समय CM ने यह निर्णय लिया. मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा की “अयोध्या में जल स्रोतों के संरक्षण, इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम, पशु संरक्षण, आउटर रिंग रोड का निर्माण, सोलर प्रोजेक्ट, वृक्षारोपण और रोजगार के नए अवसर उत्पन्न करने के प्रोजेक्ट पर प्राथमिकता से काम शुरू किया जाएगा. सनातन संस्कृति पर आधारित यह शहर प्राचीन सभ्यता, विरासत और परंपरा पर आधारित यह शहर आधुनिक समावेशी सुविधाओं के साथ सामंजस्य में विकसित होगा”.

अयोध्या में राम मंदिर को 54 अरब से भी अधिक और मस्जिद को सिर्फ 20 लाख

सीएम आदित्यनाथ द्वारा अधिकारियों ने भी यह बताया की “राम मंदिर रोड के चौड़ीकरण के लिए जमीन अधिग्रहण करने से पहले दुकानदारों और स्थानीय निवासियों की अनुमति ली जाए और उनके लिए उचित प्रबंध किया जाए”. इसके अलावा योगी जी ने अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय के विषय पर यह स्वीकार किया की संग्रहालय इस प्रकार बनाया जाना चाहिए कि उसमें आधुनिकता के साथ ऐतिहासिक गर्व का संयोजन हो. बता दें की गेस्ट हाउस और विभिन्न अन्य संस्थानों के निर्माण के लिए जमीन अधिग्रहण का भी आदेश दिया है और इसके अलावा सरयू नदी और उसके घाटों के सौंदर्यीकरण की योजना पर भी गंभीरता से विचार किया जा रहा है, शीघ्र ही परिणाम भी सामने आ जाएगा.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

अयोध्या के दशरथ मेडिकल कोलेज में ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना करेगा ‘श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट’

One thought on “CM योगी आदित्यनाथ ने कहा अयोध्या को बनाएंगे धार्मिक, वैदिक और सोलर शहर”

Leave a Reply

%d bloggers like this: