टी राजा सिंह

जब से विधायक टी राजा सिंह ने पैगम्बर मुहम्मद पर कथित तौर पर विवादित टिप्पणी की है, तब से ही हैदराबाद में उनको लेकर ‘सर-तन से जुदा’ के नारे सुनने को मिले हैं।

इस वीडियो को भी पूरा देखें:-

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कोर्ट ने विधायक टी राजा सिंह को चेतावनी देते हुए गिरफ्तारी के कुछ घंटों के भीतर ही जमानत दे दी है। हालाँकि, कोर्ट ने पहले टी राजा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया था लेकिन बाद कोर्ट ने रिमांड ऑर्डर वापस लेते हुए उन्हें जमानत दे दी। वहीं विधायक ने भी पूछा, “राम भक्तों की सुनवाई क्यों नहीं होती”

आपको बताते चलें कि गिरफ्तारी के दौरान दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 41 का पालन नहीं किए जाने के बाद अदालत ने टी राजा की रिहाई का आदेश दिया है। उन्हें मंगलवार (23 अगस्त, 2022) की सुबह पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पुलिस ने टी राजा को हैदराबाद के नामपल्ली कोर्ट में पेश किया था। टी. राजा सिंह हैदराबाद की गोशामहल सीट से विधायक हैं।

गौरतलब है कि गिरफ़्तारी के समय भी टी राजा सिंह ने कहा, “जब हिन्दू देवी-देवताओं को लेकर चुटकुले सुनाए जाते हैं और उन्हें निशाना बनाया जाता है, तब ऐसी कोई FIR नहीं होती। आज उनके खिलाफ राज्य में जगह-जगह FIR किए जा रहे हैं, लेकिन क्या हमारे राम, भगवान नहीं हैं? क्या हमारी सीता माँ नहीं है?” बता दें उनका इशारा मुनव्वर फारूकी की तरफ था। पुलिस की भारी तैनाती के बीच उसका कॉमेडी शो कराया गया।

राजा ने आगे कहा, “आज तेलंगाना में भगवान राम और माँ सीता के भक्त पूछ रहे हैं कि हमारे देवी-देवताओं पर बदजुबानी करने वालों को पुलिस की सुरक्षा क्यों मिलती है? उसे ऐसी सुरक्षा दी जाती है, जैसी देश के प्रधानमंत्री को भी न मिले। आप जनता को किस तरह का सन्देश देना चाहते हैं?” उन्होंने यह भी कहा कि भगवान राम और माँ सीता के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द बोलने वालों का यहाँ सम्मान है, उनके भक्तों की कोई इज्जत नहीं है।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

’53 साल का बुड्ढा 6 साल की बच्ची से निकाह करता है’ टी राजा सिंह का बयान, देखें पूरा वीडियो

%d bloggers like this: