मथुरा

मथुरा में शाही ईदगाह की 13.37 एकड़ भूमि को लेकर विवाद है। इसी को लेकर अब स्थानीय कोर्ट ने सर्वे का आदेश देकर 20 जनवरी तक रिपोर्ट सबमिट करने के लिए कहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मथुरा में स्थित श्री कृष्ण जन्म भूमि और शाही ईदगाह (Shahi Eidgah) विवाद मामले में आज (24 दिसंबर 2022) स्थानीय कोर्ट ने विवादित स्थल के सर्वे के लिए विशेष आदेश जारी कर दिया है। अब अमीन को 20 जनवरी तक नक्शे के साथ शाही ईदगाह विवादित स्थल की सर्वेक्षण रिपोर्ट कोर्ट को सौंपनी होगी। वहीं कोर्ट ने सभी प्रतिवादियों को एक नोटिस तामील कराने का भी आदेश दिया है। देखिए वीडियो रिपोर्ट:-

जानकारी यह भी सामने आ रही है कि सिविल जज सीनियर डिविजन तृतीय सोनिका वर्मा की कोर्ट ने शनिवार को शाही ईदगाह के विवादित स्थल के सर्वे का आदेश दिया है। वादी के वकील शैलेश दुबे ने यह जानकारी दी है कि हिंदू सेना की ओर से दायर किए गए दावे में यह आदेश हुआ है। बताया जा रहा है कि कोर्ट में श्री कृष्ण जन्मभूमि की 13.37 एकड़ भूमि मुक्त कराने और शाही ईदगाह को विवादित स्थल से हटाए जाने के लिए दायर कर दिया गया है।

सिविल जज सीनियर डिवीजन (तृतीय) की कोर्ट ने हिंदू सेना के दावे पर इस सुनवाई में शाही ईदगाह मस्जिद का अमीन सर्वे करने का अहम आदेश दिया है। 20 जनवरी तक अमीन को इसकी एक रिपोर्ट भी कोर्ट में पेश करनी होगी। यह उसी तर्ज पर है जिस तरह से वाराणसी में ज्ञानवापी मामले में कोर्ट ने आदेश पारित किया था। इस पर पहले गुरुवार (23 दिसंबर 2022) को प्रतिवादियों को नोटिस जारी होने थे। लेकिन, उस दिन सुनवाई नहीं हो पाई थी।

गौरतलब है कि अब इस मामले की अगली सुनवाई नए साल 20 जनवरी 2023 को होगी। बता दें 8 दिसंबर को राजधानी दिल्ली में रहने वाले हिंदू सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु गुप्ता और उपाध्यक्ष सुरजीत सिंह यादव ने सिविल जज सीनियर डिवीजन (तृतीय) की जस्टिस सोनिका वर्मा की कोर्ट में इसको लेकर दावा किया था। इसमें यह कहा गया था कि श्रीकृष्ण जन्मभूमि की 13.37 एकड़ जमीन पर मंदिर तोड़कर औरंगजेब ने ईदगाह तैयार कराई थी।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

Supreme Court के पूर्व जज ने कहा “कशी-मथुरा मस्जिद गिरवाकर UP चुनाव जीतेगी भाजपा”

%d bloggers like this: