दत्तात्रेय होसबोले

विश्व के सबसे बड़े संगठन RSS में दत्तात्रेय होसबोले को संघ का नया ‘सरकार्यवाह’ बनाया गया है, वे 2009 से ‘सहसरकार्यवाह’ का पद संभाल रहे थे.

दत्तात्रेय होसबोले

कर्नाटक के बेंगलोर में विश्व के सबसे बड़े संगठन राष्ट्र स्वयंसेवक संघ के पदों में परिवर्तन देखने को मिला है, 65 वर्षीय दत्तात्रेय होसबोले को 73 वर्षीय भैयाजी जोशी के स्थान पर संघ का नया ‘सरकार्यवाह’ बनाया गया है. संघ की ओर से ये परिवर्तन बेंगलोर में आयोजित दो दिवसीय अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में सर्वमत होकर किया गया. यह सभा 19 मार्च 2021 और 20 मार्च 2021 को आयोजित की गई.

दत्तात्रेय होसबोले बने RSS के ‘सरकार्यवाह’

बेंगलोर में आयोजित दो दिवसीय अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में संघ द्वारा सर्वमत होकर दत्तात्रेय होसबोले को राष्ट्र स्वयंसेवक संघ का ‘सरकार्यवाह’ नियुक्त किया गया है, इनसे पहले ये स्थान साल 2009 से ही भैयाजी जोशी का था और तब से ही इन्होंने भी संघ में रहते हुए ‘सहसरकार्यवाह’ का पदभार संभाला हुआ था.

दत्तात्रेय होसबोले के साथ RSS की टीम

विश्व का सबसे विशाल संगठन होने के इस संगठन की टीम भी बहुत बड़ी है, टीम से जुड़े सभी सदस्यों को अलग अलग कार्यभार सौपा हुआ है. राष्ट्र स्वयंसेवक संघ की टीम में ‘सरसंघचालक’ के पद पर मोहन भागवत और ‘सरकार्यवाह’ दत्तात्रेय होसबोले हैं. इसको आसान भाषा में समझें तो संघ का सर्वोच्च पद ‘सरसंघचालक’ का हैं और उनके बाद ‘सरकार्यवाह’ का पद ही आता है.

बाकि टीम की बात करें तो इसमें ‘सहसरकार्यवाह’ डॉ मनमोहन वैद्य, कृष्ण गोपाल, सी. आर. मुकुंद, अरुण कुमार और राम दत्त चक्रधर हैं. वहीं इस संघ में ‘शारीरिक प्रधान’ सुनील कुलकर्णी है और ‘सह शारीरिक प्रधान’ जगदीश प्रसाद को नियुक्त किया गया है. ‘बौधिक प्रधान’ स्वांत रंजन हैं और ‘सह बौधिक प्रधान’ सुनील भाई मेहता हैं. ‘सेवा प्रधान’ पराग अभ्यंकर और ‘सह सेवा प्रधान’ राजकुमार मथले हैं. संघ में ‘संपर्क प्रमुख’ रामलाल और ‘सह संपर्क प्रमुख’ रमेश पप्पा व सुनील देशपांडे हैं. ‘प्रचार प्रमुख’ सुनील अम्बेकर हैं और ‘सह प्रचार प्रमुख’ नरेंद्र ठाकुर और आलोक कुमार हैं.

इसे भी पढ़ें:-

आरएसएस ने अपनी 2021 की रिपोर्ट में राष्ट्र विरोधी ताकतों पर निशाना साधा

Leave a Reply

%d bloggers like this: