मोदी सरकार

दिल्ली बोर्डर पर धरने पर बैठे किसानों ने मोदी सरकार को एक ओर धमकी दे दी है, यदि किसानों को कोरोना की आड़ में यहां से हटाया तो परिणाम भुगतना होगा.

राजधानी दिल्ली में कोरोना का कहर इस कदर की रूह कंपा दे. बता दें की दूसरी लेहर के चलते बीते 14 दिनों में अब तक 2 लाख 39 हजार 611 नय मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं यदि मरने वालों का जिक्र करें तो अब तक 12 हजार 887 मौतें भी दर्ज की गई हैं. इसके अलावा जो सबसे ज्यादा परेशानी की बात है वह है ऑक्सीजन की भारी कमी.

मोदी सरकार को किसान नेता की धमकी

कोरोना की इस प्रचंड लेहर को देखते हुए दिल्ली बोर्डर पर बैठे कथित किसानों को अब ये डर सताने लग गया है की प्रसाशन उन्हें यहां से भगाने वाला है इसलिए अब वह नई नई धमकियां देने का कार्य कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रदर्शनकारी किसानों ने इस स्थान से एक इंच भी हिलने से मना कर दिया है और कोरोना की प्रवाह किए बिना वहीं डटे हुए हैं.

भारतीय किसान यूनियन से जुड़े एक किसान सदस्य गुरनाम सिंह चढूनी ने भारत में सत्ताधारी मोदी सरकार को धमकी देते हुए कहा की “कोरोना के नाम पर केंद्र सरकार किसान आंदोलन को समाप्त करवाने की साजिश रच रही है, अगर सरकार ने किसानों को धरने से कोरोना के नाम पर जबरदस्ती उठाने का प्रयास किया तो गंभीर परिणाम होंगे”.

मोदी सरकार पर योगेंद्र यादव ने भी आरोप लगाया

बता दें की धमकियों के अलावा केंद्र सरकार पर आरोप भी खूब बढ़ चढकर लगाए जा रहे हैं, इच्छाधारी प्रदर्शनकारी के नाम से कुख्यात योगेंद्र यादव ने कहा की “मोदी सरकार कोरोना वायरस महामारी के बहाने विरोध – प्रदर्शन को खत्म करने की कोशिश कर रही है”.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

किसान फिर से दिल्ली जाएंगे और बेरीकेट्स तोड़ेंगे, धमकी के साथ भारतबंद का ऐलान

Leave a Reply

%d bloggers like this: