बाढ़ जिहाद

बीते दिनों असम में आई बाढ़ एक साजिश थी और अब वही ‘बाढ़ जिहाद’ वाली साजिश का खुलासा यूपी के लखीमपुर खीरी से हुआ है।

ऑपइंडिया की विशेष रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश (UP) के लखीमपुर खीरी नहर की पटरी काटने की कोशिश करते पुलिस ने 6 आरोपितों पर केस दर्ज किया है। इन सभी के खिलाफ सिंचाई विभाग के जूनियर इंजीनियर ने पुलिस में शिकायत और सूचना दी है। आरोपितों के नाम रिकशान शाह, सिकंदर शाह, वसीम खां, सरदार अली, जीशान अली और मुद्दरिक अली हैं।

आपको बताते चलें की सोशल मीडिया पर इस तरह की घटनाओं को ‘बाढ़ जिहाद’ का नाम दिया गया है। इसमें से जीशान को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना 13 जुलाई 2022 (बुधवार) की है। पुलिस को जूनियर इंजीनियर सत्येंद्र वर्मा द्वारा दी गई तहरीर के मुताबिक “13 जुलाई को मैं अपनी टीम के साथ अपने क्षेत्र में नहर का निरीक्षण कर रहा था।”

इसमें आगे लिखा गया “इसी दौरान मैंने बनकागाँव के पटरी नंबर 96.588 पर रिकशान शाह, सिकंदर शाह, वसीम खां, सरदार अली, जीशान अली और मुद्दरिक अली को नहर की पटरी काटते हुए पाया। उसी समय मैंने डायल 112 से पुलिस को इस कृत्य के बारे में सूचित किया।” वहीं मीडिया रिपोर्ट्स में सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता अखिलेश गौतम के हवाले से बताया गया कि घटना के समय जहाँ कटाई हो रही थी वहाँ नहर 2946 क्यूसेक डिस्चार्ज से बह रही थी।

यदि पटरी कट जाती तो कम से कम 3 गाँवों की सैकड़ों हेक्टेयर जमीन पानी में डूब जाती। इस भूमि में खेती की जमीन, स्थानीय लोगों की आबादी और रेलवे लाइनें भी शामिल हैं। अधिशासी अभियंता ने किसी और को भी ऐसा न करने की अपील की। उन्होंने ऐसा करने वाले सभी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। वहीं शिकायतकर्ता जूनियर इंजीनियर सत्येंद्र कुमार ने कहा “मैं मौके पर पहुँच गया वर्ना अगर पटरी कटती तो काफी नुकसान हो जाता। बाकी सभी आरोपित हमें देख कर भाग गए पर मौके से जीशान नाम के व्यक्ति को पकड़ लिया गया।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

लव जिहाद: दानिश ने दिनेश बन युवती से बनाए शारीरिक संबंध

%d bloggers like this: