गौहत्या

हाल ही में हुए यूपी पंचायत चुनावों के नतीजों के नव निर्वाचित प्रधान रकमुद्दीन और उसके 4 साथियों को गौहत्या करने के मामले में गिरफ्तार किया गया.

उत्तर प्रदेश में हाल ही पंचायत चुनाव सम्पन्न हुए हैं, जिसके बाद से ही कुछ असामाजिक तत्वों के कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जो कठोर निंदनीय हैं. नया मामला सोनभद्र जिले के बरवाखड़ गांव का है, यहां के नय चुने गए प्रधान रकमुद्दीन को उसके 4 सहयोगियों के साथ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. रकमुद्दीन पर गौहत्या का आरोप लगाया गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रकमुद्दीन ने चुनावों के दौरान लोगों से वादा किया था की जीत के बाद वे सबको Beef यानि गौमांस की पार्टी देंगें, उसने चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद बीफ़ पार्टी का फैसला किया और उसके लिए गौहत्या भी करी. इसकी जानकारी जब स्थानीय लोगों को पड़ी तो उन्होंने ही प्रधान रकमुद्दीन के खिलाफ़ पुलिस को अवगत कराया.

उत्तर प्रदेश की योगी पुलिस ने मामले पर तुरंत प्रभाव कार्रवाई करते हुए प्रधान रकमुद्दीन सहित उसके 4 अन्य साथियों को भी गिरफ्तार किया गया. सोनभद्र के SP अमरेन्द्र प्रसाद सिंह ने मीडिया को जानकारी दी की पुलिस ने घटनास्थल से संदिग्ध माँस, जानवरों की खाल और कत्ल के सामानों को बरामद किया गया है.

उन्होंने ये भी बताया की पाँच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है, ग्राम प्रधान के अलावा अकरम अली, साहेब जान, नजमुल और रहीस चार अन्य आरोपित हैं. बता दें की इस असामाजिक घटना के बाद स्थानीय लोगों में बहुत आक्रोश देखने को मिल रहा है और गांव का मौहोल भी तनावपूर्ण बताया जा रहा है. इस घटना भाजपा कार्यकर्ताओं और बजरंग दल, विश्व हिंदू महासंघ व विश्व हिंदू परिषद ने भी विरोध जताया.

बता दें की उत्तर प्रदेश में गौहत्या के खिलाफ़ योगी सरकार ने 2020 में ‘गो-वध निवारण (संशोधन) विधेयक 2020’ कानून को सख्ती से लागू किया गया था, इसके मुताबिक यदि को गौवंश का वध करता है तो उसे 10 वर्ष के दंड का प्रावधान निश्चित किया गया है.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

गौहत्या के आरोपी को पकड़ने पहुंची पुलिस पर हमला, पढ़िए यूपी में ‘गोकशी’ पर पूरा कानून

2 thoughts on “गौहत्या करने पर ग्राम प्रधान रकमुद्दीन समेत 5 गिरफ्तार”

Leave a Reply

%d bloggers like this: