शराब

दिल्ली में जब शराब के दामों में छूट मिलना शुरू हुई है, तब से ही शराब एक राष्ट्रीय मुद्दा बनता जा रहा है। अब इससे से जुड़ी एक ओर खबर सामने आई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सोशल मीडिया पर एक फार्म वायरल किया जा रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार लोगों के घरों तक शराब की पाइपलाइन पहुँचाने में मदद कर रही है। शराब की पाइपलाइन के लिए लोग आवेदन कर सकते हैं। इस फॉर्म को सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार विरोधी ताकते खूब वायरल करने में लगी हुई हैं।

आपको बताते चलें की इस आवेदन पत्र में लिखा है “भारत सरकार, शराब की पाइपलाइन कनेक्शन हेतु आवेदन। माननीय प्रधानमंत्री ने रोज शराब पीने वालों के लिए शराब की पाइपलाइन देने का फैसला लिया है, जो भी इच्छुक हों वो 11000 रुपए के डिमांड ड्राफ्ट के साथ इस आवेदन पत्र को भरकार प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO Office) में जमा करवाएँ।”

वहीं आवेदन पत्र में आगे लिखा है “आवेदन प्राप्त होने के एक महीने बाद निरीक्षण करके आवेदक के घर मीटर के साथ शराब की पाइपलाइन को जोड़ दिया जाएगा। बाद में खपत के अनुसार, बिल घर पर आएगा।” इसके बाद नीचे आवेदन का नाम लिखने के लिए जगह छोड़ी गई और साथ ही एक फोटो के लिए भी जगह दी है। यह फाॅर्म बिल्कुल सरकारी फार्म जैसा ही दिख रहा है।

गौरतलब है की यह मैसेज सोशल मीडिया पर इतना वायरल हुआ कि प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) फैक्ट चेक के पास पहुँच गया। फैक्ट चेक डिपार्टमेंट ने इस खबर को फर्जी बताया है। PIB ने इस वायरल मैसेज के खूब मजे लिए और नाना पाटेकर की फोटो के साथ इसे शेयर करते हुए लिखा “चिल गाइज, अपनी उम्मीदों को ज्यादा मत बढ़ाओ।” यानि की लोग सरकार को बदनाम करने के लिए किसी भी हद तक गिर सकते हैं, इसलिए अफवाहों से बचें!

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

CM ने वैक्सीन बेचकर पैसों से घर घर शराब बांट दी –गौतम गम्भीर

%d bloggers like this: