राम

अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर भक्तों के लिए 2023 से खोल दिया जाएगा, हालांकि सम्पूर्ण निर्माण तो 2025 तक सम्पन्न होने की आशंका है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अयोध्या में श्री राम जन्म भूमि पर भगवान राम का भव्य और विशाल मंदिर 2025 तक सम्पूर्ण रूप से बन जाएगा. लेकिन उससे पहले दिसंबर 2023 में भक्तों के लिए इन मंदिर को खोल दिया जाएगा, यानि की 2023 के बाद से भक्त गण न केवल राम लला के दर्शन कर पाएंगे बल्कि वे मंदिर में उनकी पूजा भी कर सकेंगें. बताया जा रहा है की यह मंदिर भारतीय इतिहास का गौरव बनने वाला है और हिंदू – मुस्लिम एकता का दुर्लभ उदाहरण भी बनेगा.

प्रभु श्री राम के इस मंदिर के परिसर का पूरी तरह निर्माण 2025 तक होने वाला है, मंदिर के परिसर में म्यूजियम, डिजिटल आर्काइव और एक रिसर्च सेंटर भी स्थापित किया जाएगा, म्यूजियम और आर्काइव के माध्य से लोग अयोध्या और राममंदिर के इतिहास के बारे में जान सकेंगे, इसके अलावा हिंदू संस्कृति के बारे में भी बताया जाएगा. बता दें की 15 सितम्बर तक राम मंदिर के प्लिंथ से पहले तक का काम पूरा हो जाएगा, मंदिर का पूरा परिसर 110 एकड़ का विशाल क्षेत्र होगा.

गौरतलब है की राम मंदिर के गर्भ गृह में भगवान राम अपने बाल रूप में विराजमान होंगे लेकिन पहली मंजिल पर श्रीराम का दरबार होगा, जिसमें श्रीराम के साथ माता सीता भी विराजमान रहेंगी. बता दें की लगभग 1000 करोड़ रुपयों की लागत से राममंदिर के परिसर का निर्माण किया जाएगा. बताया जा रहा है की 3000 करोड़ रुपयों का दान मिला है. राम मंदिर में स्टिक का प्रयोग नहीं होगा, उसके बजाए कोपर का प्रयोग किया होगा. मंदिर निर्माण में 70 फीसदी कार सेवक पुरम में तराशे गए पत्थरों से होगा और बाकि पत्थर राजस्थान के बंशी पहाड़पुर से मंगाए जाएंगे.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

अयोध्या में राममंदिर को 54 अरब से भी अधिक और मस्जिद को सिर्फ 20 लाख

Leave a Reply

%d bloggers like this: