गोवा

प्रयागराज के बाद अब देश के एक ओर क्षेत्र से लाउडस्पीकर से अजान होने पर आपत्ति हुई है, दरअसल गोवा हाईकोर्ट ने एक प्रदेश में लाउडस्पीकर से अजान पर प्रतिबंध लगाया है.

गोवा

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारत के छोटे से राज्य गोवा में हाई कोर्ट ने ये आदेश पारित किया है की अब मस्जिदों पर लाउडस्पीकरों से अजान नहीं की जाए. कोर्ट के अनुसार यदि लाउडस्पीकर से अजान करनी हो तो उसके लिए संबंधित अधिकारी से अनुमति लेनी पड़ेगी.

इसके अलावा हाई कोर्ट ने पुलिस को भी आदेश दिए हैं की वह इन मस्जिदों पर नजर रखते रहें की कोई इस आदेश का उलंघन तो नहीं कर रहा है. बता दें की अब से इस राज्य के पंडितवाड़ा में नूरानी मस्जिद, सफा मस्जिद, सुन्नी शाही मदीना मस्जिद, मस्जिद सहित आसपास की मस्जिदों में भी लाउडस्पीकर का प्रयोग गैर कानूनन होगा.

गोवा की मस्जिदों के लाउडस्पीकर के सामने इंजीनियर

मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकरों से होने वाली नमाज के कारण एक स्थानीय युवक वरुण प्रीओलकर को आपत्ति हुई और उन्होंने इससे बचने के कोर्ट का दरवाजा खटखटाया, कोर्ट ने वरुण की याचिका को स्वीकारते हुए इस पर सुनवाई शुरू की और अपना निर्णय भी वरुण के पक्ष में सुनाया.

वरुण प्रीओलकर एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर है और एक मल्टीनेशनल कंपनी के लिए काम भी करते हैं, परंतु उनका मानना है की हर दिन 5 अलग अलग टाइम पर लाउडस्पीकरों से उत्पन्न शोर के कारण ही वो अपना काम ठीक से नहीं कर पा रहें हैं. इसलिए उन्होंने याचिका दायर की और उसमें न्वाइज पॉल्यूशन यानि की रेगुलेशन एंड कंट्रोल रूल्स 2000 के अनुसार अपने मौलिक अधिकार का हवाला भी दिया.

इससे पहले प्रयागराज में भी उठी थी आवाज

लाउडस्पीकरों से अजान कारण लोगों को सिर्फ गोवा में ही परेशानी नहीं हुई बल्कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज से भी इसके खिलाफ़ आवाज उठ चुकी है. दरअसल उस मामले में प्रसाशन ने सिमित समय के लिए लाउडस्पीकरों पर रोक लगाई है.

इसे भी पढ़ें:-

लाउडस्पीकर पर अजान वाले मामले में मौलाना और हिंदू धर्मगुरु आमने-सामने, कही ये बातें

%d bloggers like this: