मुस्लिम

यूपी के प्रयागराज के इलाहाबाद हाई कोर्ट ने मुस्लिम से हिंदू बनी युवती की विवेश समुदाय से सुरक्षा के लिए पुलिस को निर्देश जारी किए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश की एक मुस्लिम युवती ने अपनी सुइच्छा से हिंदू बनकर पुरे हिंदू रीती रिवाजों से विवाह किया, जिसके बाद से युवती के घरवाले उससे बहुत खफ़ा हो गए और उसके पिता लगातार उसे धमकियां देने लग गए. युवती ने बाद में अपनी सुरक्षा को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दर्ज कराई, जिस पर कोर्ट ने तत्काल प्रतिक्रिया देते हुए 26 मई बुधवार को युवती की सुरक्षा के निर्देश जारी किए हैं.

इलाहाबाद हाई कोर्ट के जस्टिस जेजे मुनीर ने मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) को निर्देश दिए की “याचिककर्ता (युवती) की पूरी सुरक्षा सुनिश्चित की जाए. पुलिस को सुनिश्चित करना होगा कि महिला और उसके पति को, महिला के घर के सदस्य, उसके समुदाय के लोग और स्थानीय पुलिस द्वारा कोई नुकसान न पहुँचाया जाए. मेरठ SSP को यह देखना होगा कि महिला के पिता के कहने पर स्थानीय पुलिस महिला के शादीशुदा जीवन में कोई समस्या उत्पन्न न करे”.

HC ने कहा की “पुलिस को यह भी सुनिश्चित होगा की महिला के परिवार या समुदाय के सदस्य इलेक्ट्रॉनिक माध्यम या शारीरिक माध्यम से महिला या उसके पति को नुकसान न पहुँचाए”. कोर्ट की अगली सुनवाई 23 जून को होगी. बता दें की HC को जानकारी मिली की मेरठ की 19 वर्षीय मुस्लिम युवती ने अपनी इच्छा से पहले हिंदू बनी और और आर्य समाजी मंदिर में हिंदू रीती व रिवाजों से विवाह भी किया, जिससे उसके पिता और उसके समुदाय के लोगों ने उसे धमकियां देना शुरू कर दिया. युवती ने उसने इचौली थाना क्षेत्र में सुरक्षा की माँग थी मगर उसे सुरक्षा नहीं मिली तो आख़िरकार कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

कर्फ्यू को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने योगी सरकार को लगाई फटकार

Leave a Reply

%d bloggers like this: