कंडोम

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एआईएमआईएम(AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर सुर्खियों के बने हुए है अभी कुछ दिनों पहले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत ने जनसंख्या असंतुलन पर बयान दिया था की उसी के विरोध में एआईएमआईएम(AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा की कहा कि सबसे ज्यादा कंडोम मुस्लिम इस्तेमाल करते हैं। ओवैसी के मुताबिक मुस्लिमों की जनसंख्या बढ़ने के बजाए घट रही है। उन्होंने लोगों से टेंशन न लेने की भी अपील की है।

क्या बोला सभा में असदुद्दीन ओवैसी ने?

एक जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि भागवत इस पर कभी जिक्र नहीं करेंगे और उन्हें जनसंख्या वृद्धि पर चर्चा करने से पहले तथ्यात्मक आंकड़े रखने चाहिए। ओवैसी ने कहा मुसलमानों की आबादी नहीं बढ़ रही है। उस पर कोई टेंशन न लें। हमारी आबादी घट रही है। मुसलमानों के बच्चों का TFR (कुल प्रजनन दर) घट रहा है।

आप जानते हैं कि कौन दो बच्चों के बीच अधिक दूरी बनाए रखता है? कंडोम का सबसे ज्यादा इस्तेमाल कौन कर रहा है? यह केवल मुसलमान है। कंडोम का सबसे ज्यादा इस्तेमाल हम उपयोग कर रहे हैं। मोहन भागवत इसके बारे में बात नहीं करेंगे कभी भी।

मदरसों को बनाया जा रहा है निशाना – असदुद्दीन ओवैसी

इसी सभा को संबोधित करते हुए AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा की उत्तर प्रदेश में हो रहे मदरसों के सर्वे का में विरोध करता हुं उन्होंने कहा कि इस देश में मदरसों को निशाना बनाया जा रहा। इसके अलावा असदुद्दीन ओवैसी ने इसी सभा मे यह तक बोल डाला की कि आज के इस युग में भारत में किसी मुस्लिम की कीमत सड़क के किनारे चल रहे कुत्ते से कम है। उन्होंने लोगों से सियासी ताकत बढ़ाने की अपील की। और वहां बैठे लोग भी उनका समर्थन करते दिखाई दे रहे है।

क्या कहते है आंकड़े

भारत में वर्तमान में मुसलमानों में कुल प्रजनन दर 4.4 सबसे अधिक है वही हिंदुओं में टीएफआर 1.94 है, जबकि ईसाइयों और सिखों में, दर क्रमशः 1.88 और 1.61 है। भारत की कुल प्रजनन दर 2.2 से घटकर 2.0 हो गई है।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

ओवैसी के गर्भनिरोधक वाले बयान पर ‘पितामह भीष्म’ ने दिया जवाब, देखें पूरा वीडियो

%d bloggers like this: