VIDEO

आज कल देश के कई हिस्सों से केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना का विरुद्ध हो रहा है, लेकिन प्रदर्शन कर रहे छात्रों को ये पता भी नहीं है की पूरी स्कीम आखिर क्या है। इस VIDEO में हुआ खुलासा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देश के युवाओं को सेना की तरफ आकर्षित करने और उन्हें अनुशासित बनाने के लिए केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का सबसे अधिक विरोध बिहार में हुआ। बक्सर जिले में उपद्रव रोकते समय घायल हुए एक सब इंस्पेक्टर ने अपने बयान में घटना को भाड़े की भीड़ द्वारा किया गया हमला बताया।

आपको बताते चलें की इस बीच एक VIDEO सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इसमें धरना दे रहा एक युवक अग्निपथ स्कीम के बारे में किसी भी जानकारी से अनभिज्ञ दिखा और सवाल पूछे जाने पर बताया कि उसे मनीष भैया द्वारा बुलवाया गया है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इस वीडियो के वायरल होते ही कई लोग सवाल खड़े करने लगे कि आखिर ‘मनीष भैया’ है कौन?

सोशल मीडिया पर लगाए जा रहे तमाम कयासों के बीच हमने मनीष भैया की तलाश शुरू की। इस खोज के दौरान हमने वायरल वीडियो में प्रदर्शनकरियों के हाथ में जन अधिकार पार्टी का झंडा देखा। बाद में जानकारी जुटाई कि प्रदर्शन पटना में हुआ था। हमने पूरा वीडियो खोजा तो प्रदर्शनकारी ने मनीष भैया को थोड़ी दूर पर बैठा बताया और उन्हें जनअधिकार पार्टी से जुड़ा बताया।

वहीं सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा यह वीडियो IVTV नाम के एक स्थानीय न्यूज़ द्वारा बनाया गया था। हमने जब और अधिक जानकारी जुटाई तो पता चला कि वीडियो 17 जून 2022 (शुक्रवार) का है। इस दिन पटना में जन अधिकार पार्टी के प्रदर्शन का नेतृत्व पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ अध्यक्ष और जनअधिकार पार्टी के युवा मोर्चा के पदाधिकारी मनीष यादव ने किया था।

कुछ मीडिया संस्थाओं द्वारा की गई पड़ताल पर ये खुलासा हुआ की वो लड़का मनीष यादव के ही प्रदर्शन का हिस्सा था, खुद मनीष यादव ने कहा “जो लड़का वायरल वीडियो में दिख रहा मैं उसे नहीं पहचानता लेकिन उस दिन मेरा ही प्रदर्शन डाक बंगला चौराहा पटना पर हुआ था। वो लड़का शायद मेरे किसी परिचित के साथ आया हो।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

अग्निपथ योजना के विरोध में छात्रों ने पीएम को गाली देकर कहा “मोदी मादर… है”

%d bloggers like this: