भगवंत मान

केजरीवाल की पार्टी ‘आम आदमी पार्टी’ से पंजाब के सीएम भगवंत मान को जर्मनी में फ्लाइट से इसलिए उतारा दिया, क्योंकि वे शराब के नशे में धुत थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आम आदमी पार्टी के नेता और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान की जर्मनी में फजीहत हो गई। उन्होंने शराब पी रखी थी, जिस कारण से इन्हें फ्लाइट से ही उतार दिया गया। खास बात ये कि भगवंत मान जर्मनी में निवेश के जुगाड़ में गए थे। इस घटना के बाद से 11 से 18 सितंबर तक की उनकी यात्रा पर राजनीति शुरू हो गई है।

पंजाब के सीएम ये चाहते थे कि जर्मन कार ब्रांड बीएमडब्ल्यू की प्रोडक्शन यूनिट को पंजाब में स्थापित करवाना चाहते थे। हालाँकि उनकी ये मंशा पूरी न हो सकी। इस बीच इस घटना के सामने आने के बाद लगातार विपक्ष ने ये आरोप लगाया है कि बरुहा के ब्रम्हण निकलते ही थे। पार्टी के प्रवक्ता मलविंदर सिंह कांग ने कहा, “हमारे राजनीतिक विरोधी सीएम को बदनाम करने के लिए इन अफवाहों को फैला रहा है।”

उन्होंने आगे कहा, “वे यह पचा नहीं पा रहे हैं कि सीएम मान पंजाब में निवेश पाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। सीएम तय कार्यक्रम के अनुसार लौट रहे थे। उन्हें रविवार रात यहाँ उतरना था, वह पहले ही दिल्ली चले गए थे।” उल्लेखनीय है भगवंत मान को शनिवार को जर्मनी के फ्रैंकफर्ट पर नशे की हालत में विमान पर सवार होने से रोक दिया गया। यही इस मामले में इसके साथ ही प्रति अपेक्षित तरीकों के साथ आम आदमी पार्टी एक की आईटी सेल वहातार आईसेल कर लें।

इस घटना को लेकर आप आदमी पार्टी के प्रवक्ता पार्टी के प्रवक्ता मलविंदर सिंह कांग ने कहा, “हमारे राजनीतिक विरोधी सीएम को बदनाम करने के लिए इन अफवाहों को फैला रहा है। वे यह पचा नहीं पा रहे हैं कि सीएम मान पंजाब में निवेश पाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। सीएम तय कार्यक्रम के अनुसार लौट रहे थे। उन्हें रविवार रात यहाँ उतरना था, वह पहले ही दिल्ली चले गए थे।” दिलचस्प बात यह है कि राज्य सरकार के अधिकारी भी दावा करते रहे हैं कि स्वास्थ्य कारणों से सीएम की जर्मनी से वापसी में देरी हुई।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

जिसके खिलाफ मैंने गलत शब्द बोला है, वो आके मुझसे माफी मांगे: भगवंत मान

%d bloggers like this: