झारखंड

झारखंड में एक तरफ जहां दुमका से हिंदू महिलाओं के उत्पीड़न की खबरें आ रही हैं, वहीं दूसरी तरफ दुमका से विधायक और सीएम के भाई ‘अंडरगारमेंट्स’ के लिए दिल्ली गए।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार झारखंड में हेमंत सोरेन की अगुवाई में जब से झारखंड मुक्ति मोर्चा की सरकार बनी है, तब से राज्य में इस्लामिक कट्टरपंथ तेजी से बढ़ा है। इसी के साथ बढ़ गई हैं लव जिहाद जैसी घटनाएँ। प्रदेश में अराजकता का माहौल होने के बाद भी वहाँ के नेताओं के बचकाना बयान सामने आ रहे हैं। वहीं सीएम के भाई का भी एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है:-

आपको बताते चलें कि हेमंत सोरेन के भाई बसंत सोरेन का एक बयान तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वो ये कहते दिख रहे हैं कि जिस वक्त दुमका में हिंदू लड़की अंकिता को जिंदा जलाया जा रहा था तो उस दौरान वो दिल्ली अंडरवियर खरीदने के लिए जा रहे थे। दरअसल, शिबू सोरेन के गाँव खजूरिया में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई थी, जिसमें बसंत सोरेन ने पत्रकारों के सवालों का जबाव देते हुए ये बात कही।

जब एक पत्रकार ने उनसे ये पूछा कि प्रदेश में भारी उथल-पुथल मची हुई है और इसके बीच वो दिल्ली क्यों चले गए थे। इस सवाल का बड़ी ही लापरवाही से हंसते हुए उन्होंने जबाव दिया, “हाँ गए थे, एक्चुअली मेरे अंडरगारमेंट्स खत्म हो गए थे। अंडरगारमेंट्स लेने ही दिल्ली चला गया था।” पत्रकारों ने फिर पूछा कि क्या वे अंडरगारमेंट दिल्ली से लाते हैं, तब उन्होंने कहा कि हाँ।

गौरतलब है कि अंकिता नाम की नाबालिग हिंदू लड़की शाहरुख नाम के इस्लामिक कट्टरपंथी ने अपने एक मित्र के साथ मिलकर जिंदा जला दिया था। बाद में गंभीर रूप से जल चुकी अंकिता को अस्पताल ले जाया गया, जहाँ पाँच दिन तक वो अपनी मौत से लड़ती रही और आखिरकार हार गई। ये वारदात जिस क्षेत्र की है बसंत सोरेन वहीं से विधायक हैं, लेकिन उन्होंने उस पीड़िता का हाल जानने तक की जहमत नहीं उठाई। बावजूद इसके जब बीजेपी के कई नेता पीड़िता से मिलने गए तो उन्होंने बीजेपी नेताओं को निचले स्तर का करार दे दिया।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

झारखंड में टीचर को पेड़ से बांधकर छात्रों ने दी ‘गुरुदक्षणा’ वीडियो वायरल

%d bloggers like this: