जुम्मे

विधायक अमानतुल्लाह खान के आवाहन के बाद जुम्मे के दिन यूपी लाखों की तादाद में कट्टरपंथी इकठ्ठा हुए और यति नरसिंहानंद का गला काटने की मांग करी.

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के डासना में स्थित शिव – शक्ति मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती जी पर ईशनिंदा का आरोप लगाते हुए आप आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने भड़काऊ बयान जारी किया और भारत के सभी मुसलमानों का आवाहन किया, जिसके परिणाम स्वरूप उत्तर प्रदेश लाखों कट्टरपंथी इकठ्ठा हुए और यति नरसिंहानंद सरस्वती का सर काटने की अपील भी करी.

जुम्मे

जुम्मे की नमाज के बाद किया प्रदर्शन

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आप आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान के भड़काऊ बयान के प्रभाव के चलते इसी मामले को लेकर 9 अप्रैल को जुमे की नमाज के बाद बरेली के इस्लामिया ग्राउंड में बड़ी संख्या में मुसलमान इकट्ठा हुए और यति नरसिंहानंद के खिलाफ कार्रवाई की माँग की. डासना देवी मंदिर के महंत का सिर काटने को लेकर मौलवियों-इमामों ने तकरीरें भी करी.

बता दें बरेली भी शुक्रवार को लाखों की संख्या में कट्टरपंथी इकठ्ठा हुए और डासना देवी मंदिर ने महंत स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती के बयान को भगवा आतंकवाद की संज्ञा देते हुए कई मुसलमानों ने ट्विटर पर घटना के वीडियो शेयर भी किए.

महंत स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती का बड़ा बयान

अमानतुल्लाह खान ने भड़काऊ बयान महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती के दिल्ली प्रेस क्लब में दिए गए बयान के लिए था, उन्होंने कहा था की “अगर इस्लाम की वास्तविकता, जिसके बारे में मौलाना कहते हैं कि अगर मुहम्मद के बारे में बोलते हैं, तो हम तुम्हारा सिर काट देंगे. हिंदुओं को इस डर से बाहर निकलना चाहिए. हम हिंदू हैं. अगर हम भगवान राम, और अन्य हिंदू देवताओं की मीमांसा कर सकते हैं, तो मुहम्मद हमारे लिए कुछ भी नहीं है. हम मुहम्मद के बारे में और सच क्यों नहीं बोल सकते थे?”

इसे भी जरुर पढिए:-

हरिहर पांडेय को जान से मारने की धमकी “ASI वाले ज्ञानवापी में घुस नहीं पाएंगे”

%d bloggers like this: