पंजाब के मोगा व संगरूर में भाजपा नेताओं को किसानों के विरोध का फिर सामना करना पड़ा, प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कहा की किसान आंदोलन ने पीछे कोंग्रेस का षड्यंत्र है.

अश्वनी शर्मा

देश भर में केंद्र सरकार द्वारा लागु किए गए नय कृषि कानून का विरोध अब भी जारी है. इसी विरोध के चलते पंजाब के किसानों ने मोगा, जेएनएन और संगरूर में भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के घरों सामने विरोध प्रदर्शन किए. उग्र आंदोलन कारी किसनों की भीड़ ने ट्रेक्टर व ट्रालियों से पुलिस द्वारा लगाए गए बेरीकेट्स उड़ा दिए और केंद्र सरकार व भाजपा के खिलाफ़ नारेबाजी कर नय कृषि कानून का विरोध किया.

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा का कोंग्रेस पर कटाक्ष

किसानों की भीड़ ने पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा के सामने नय कृषि कानून और मोदी सरकार के खिलाफ़ रोष प्रदर्शन किया, इसके चलते अश्वनी शर्मा ने कहा की “किसान आंदोलन के पीछे कोंग्रेस अपना षड्यंत्र करके अलग की खेल को खेल रही है लेकिन भाजपा कोंग्रेस के षड्यंत्र को कामयाब नहीं होने देगी.

मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए अश्वनी शर्मा ने कहा की “इस किसान आंदोलन कारण परिवारिक परिस्थितियों के चलते 92 भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी को त्याग दिया है मगर कोई ओर दल से भी नहीं जुड़े, लेकिन अब भी राज्य में 3200 सेवानिवृत्त आईएएस, आईपीएस, सेवानिवृत्त जज भारतीय जनता पार्टी के साथ हैं.

किसानों इन भाजपा नेताओं के सामने आंदोलन की मर्यादा तोड़ी

किसान आंदोलन के दौरान सभी विपक्षी दलों को मानो अवसर मिल गया सरकार पर सवाल उठाने का, लेकिन अब किसानों के विरोध प्रदर्शन आंदोलन की सारी सीमाएं तोड़ने लग गया है. पंजाब के मोगा और संगरूर में किसानों ने ट्रेक्टर और ट्रोलियों से पुलिस द्वारा लगाए गए अधिकारिक बेरीकेट्स उखाड़ फेंके.

किसानों का ये प्रदर्शन भारतीय जनता पार्टी के पंजाब प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा और मोगा जिले के भाजपा के पार्टी जिलाध्यक्ष विनीत शर्मा के घर के सामने इतना प्रदर्शन किया.

इसे भी पढ़ें:-

हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र और अश्लील टिप्पणी करने वाले मुनव्वर फ़ारूकी की पिटाई के बाद हुई गिरफ़्तारी

By Sachin

One thought on “किसान आंदोलन के पीछे कोंग्रेस का है षड्यंत्र –भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *