केवी संवत कुमार

भारत में एकमात्र संस्कृत भाषा के दैनिक समाचार पत्र के संपादक केवी संवत कुमार का हार्ट अटेक से निधन हो गया, इस पर प्रधानमंत्री और गृहमंत्री ने शोक भी जताया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारत में प्रकाशित होने वाले एकमात्र दैनिक समाचार पत्र ‘सुधर्मा’ के संपादक केवी संवत कुमार का हार्ट अटेक से 30 जून 2021 को निधन हो गया. बता दें की तमाम कठिनाइयों के बावजूद संस्कृत में अखबार निकालने और उसे लोकप्रिय बनाने में योगदान देने के लिए संपत कुमार और उनकी पत्नी विदुषी के एस जयलक्ष्मी को साल 2020 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था. जानकारी देते चलें की यह समाचार पत्र कर्नाटक राज्य के मैसूर से प्रकाशित होता था.

विशेष बात यह है की भारत देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडिल से ट्विट करके उनकी मृत्यु पर शोक जताया है, उन्होंने अपने ट्विट में लिखा की “केवी संपत कुमार जी एक प्रेरक व्यक्तित्व थे, जिन्होंने विशेष रूप से युवाओं के बीच संस्कृत को संरक्षित और लोकप्रिय बनाने के लिए अथक प्रयास किया. उनका जुनून और दृढ़ संकल्प प्रेरणादायक था. उनके निधन से दुखी हूँ. उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ, ओम शांति”.

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा देश गृह मंत्री अमित शाह ने भी संपादक केवी संवत कुमार जी की मृत्यु पर गहरा शोक जताया है, उन्होंने ने भी अपने ट्विट में लिखा की “केवी संपत कुमार जी का जीवन संस्कृत भाषा के संरक्षण व संवर्धन के प्रति समर्पित रहा, संस्कृत भाषा को आम बोलचाल का हिस्सा बनाने में उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता. उनका निधन संस्कृत व पत्रकारिता जगत के लिए बड़ी क्षति है. प्रभु दिवंगत आत्मा को सद्गति प्रदान करें, ॐ शांति”.

विक्की पीडिया की जानकारियों के मुताबिक बता दें की संस्कृत भारतीय उपमहाद्वीप की एक भाषा है, संस्कृत एक हिंद-आर्य भाषा है जो हिंद-यूरोपीय भाषा परिवार की एक शाखा है, आधुनिक भारतीय भाषाएं जैसे:- हिंदी, बांग्ला, मराठी, सिन्धी, पंजाबी, नेपाली आदि इसी से उत्पन्न हुई हैं. इन सभी भाषाओं में यूरोपीय बंजारों की रोमानी भाषा भी शामिल है.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

RSS के 25 स्वयंसेवकों को कहानी, आतंकियों से लोहा लेते हुए प्राप्त की वीरगति

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *