पंचांग के अनुसार आज फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी है, अर्थार्त आज ही के दिवस भगवान शिव को समर्पित महाशिवरात्रि का महा पर्व देश और दुनिया में धूमधाम से मनाया जाता है.

महाशिवरात्रि

इस महा पर्व को आज ही के दिवस इसलिए मनाया जाता है, क्योंकि पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इसी दिवस सृष्टि का प्रारम्भ हुआ था, पौराणिक कथाओं की माने इस दिन सृष्टि का आरम्भ अग्निलिंग (जो महादेव का विशालकाय स्वरूप है) के उदय से हुआ.

इसी दिन भगवान शिव का विवाह देवी पार्वती के साथ हुआ था. वर्ष में होने वाली 12 शिवरात्रियों में से महाशिवरात्रि को सबसे अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है, भारत के साथ साथ पूरी दुनिया में इस पावन पर्व बहुत ही उत्साह के संग मनाया जाता है.

महाशिवरात्रि के दिन करें इन मंत्रों का जाप

यह महा पर्व बम भोले शिव शंकर को समर्पित है, इसलिए आज के दिन भगवान शिव की साधना और भक्ति के लिए यदि ‘कर्पुर गौरम’ मंत्र का जाप करना चाहिए. इस मंत्र का ‘कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारं भुजगेन्द्रहारम्। सदा बसन्तं हृदयारविन्दे भवं भवानीसहितं नमामि।।’ इस प्रकार जाप किया जाता है, इसका अर्थ है की ‘कर्पूर जैसे गौर वर्ण वाले, करुणा के अवतार, संसार के सार, सर्प का हार धारण करने वाले, वे भगवान शिव शंकर माता भवानी के साथ मेरे हृदय में सदा निवास करें, उनको मेरा प्रणाम है’.

‘महामृत्युंजय मंत्र’ भी भगवान शिव की भक्ति के लिए जपा जाता है. इस मंत्र का ‘ॐ भूर्भुव: स्व: ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् ॐ’ इस प्रकार जाप किया जाता है, इसका अर्थ है की ‘हम भगवान शिव की पूजा करते हैं, जिनके तीन नेत्र हैं, जो हर श्वास में जीवन शक्ति का संचार करते हैं और समग्र संसार का पालन-पोषण करते हैं’.

महाशिवरात्रि के अवसर पर PM मोदी ने दी शुभकामनाएं

इस महा पर्व और उत्सव के अवसर पर भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट करके सभी देशवासियों को शुभकामनाएं दी है, अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा की “देशवासियों को महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर ढेरों शुभकामनाएं। हर-हर महादेव!”.

इसे भी पढ़ें:-

सनातन धर्म के स्तंभ सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का रहस्यमय इतिहास, 12 ज्योतिर्लिंगों में शामिल

By Sachin

One thought on “महाशिवरात्रि आज, देश और दुनिया भर में धूमधाम से मनाया जाता है पर्व”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *