Mahashivratri 2022

देश और दुनिया भर के तमाम शिव भक्तों में Mahashivratri 2022 का उत्साह महाशिवरात्रि से पहले देखने को मिल रहा, पर्व वाले दिन इस उत्साह में कई गुना ज्यादा बढ़ोतरी होगी।

Mahashivratri 2022: हिंदू पञ्चाङ्ग के अनुसार फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को महाशिवरात्रि का महापर्व मनाया जाता है, इस बार ये त्यौहार 1 मार्च 2022 को देश भर में धूमधाम से मनाया जाएगा। भगवान शिव को प्रसन्न करने लिए उनके भक्त बड़े से बड़ा अनुष्ठान भी कर जाते हैं, लेकिन महाशिवरात्रि के दिन विधिवत व्रत करने से भी महादेव को प्रसन्न किया जा सकता है।

शुभ मुहूर्त व महत्व

जैसा की आप सभी जानते हैं की इस बार महाशिवरात्रि पर्व 1 मार्च को मनाया जाएगा, लेकिन विधिवत पूजा आप शुभ मुहूर्त में करें तो अधिक उचित रहेगा। बता दें की हृषीकेश पंचांग के मुताबिक एक मार्च दिन मंगलवार को सूर्योदय सुबह 6:15 बजे और चतुर्दशी तिथि का मान रात्रि 12:17 बजे तक है। धनिष्ठा नक्षत्र भी संपूर्ण ‌दिन रात्रिशेष 3:18 बजे तक, परिघ योग दिन में 10:38 बजे तक और उसके बाद संपूर्ण दिन और संपूर्ण ‌रात्रि पर्यंत शिव योग है। बताया जाता है की इस पर्व का संसार के प्रत्येक मनुष्य के लिए विशेष महत्व है, यदि कोई व्यक्ति विधिवत पूजा आराधना करता है तो उसके कई जन्मों के पाप भी नष्ट हो जाते हैं।

शिवजी को प्रसन्न करने का सरल मार्ग

देव के देव महादेव शिव को भोलेनाथ भी कहा जाता है, क्योंकि वे तो भोले हैं और इसी कारण उन्हें प्रसन्न करने के लिए भक्तों को अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ती। परंतु महाशिवरात्रि के विशेष अवसर पर हम आपको शिवजी को प्रसन्न करने के कुछ सरल मार्ग बताएंगे:-

  • महाशिवरात्रि पर किसी बड़े पात्र में धातु से बने शिवलिंग या मिट्टी से बने शिवलिंग की स्थापना करें।
  • महाशिवरात्रि पर चार पहर की शिव पूजा करनी चाहिए।
  • शिव पूजा में सबसे पहले मिट्टी के पात्र में पानी भरकर, ऊपर से बेलपत्र, धतूरे के पुष्प, चावल आदि एक साथ डालकर शिवलिंग पर चढ़ायें।
  • महाशिवरात्रि के दिन व रात में शिवपुराण का पाठ करना या सुनना चाहिए।
  • सूर्योदय से पहले ही उत्तर-पूर्व दिशा में पूजन-आरती की तैयारी कर लें।
  • कोई सामग्री उपलब्ध न होने पर केवल शुद्ध ताजा जल शिवजी को अर्पित करने पर प्रसन्न हो जाते हैं।
  • इस दिन व्रत-उपवास रखकर बेलपत्र-जल से शिव की पूजा-अर्चना करके जौ, तिल, खीर और बेलपत्र का हवन करने से समस्त मनोकामना पूर्ण हो जाती हैं।

(नोट:- ताजा खबरों को जानने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल से भी जुड़ें)

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

महाशिवरात्रि आज, देश और दुनिया भर में धूमधाम से मनाया जाता है पर्व

One thought on “Mahashivratri 2022: जानिए महाशिवरात्रि का महत्व, शुभ मुहूर्त और शिवजी को प्रसन्न करने के सरल मार्ग”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: