मंदिर

कर्नाटक के मंगलुरू में भगवान कोरगज्जा के मंदिर में एक हेरत करने वाली घटना घटित हुई है, मंदिर की दानपेटी में कॉन्डम रखने वाले नवाज़ की रहस्यमय मौत हो गई और इसके डर से नवाज के दो साथियों ने भी भगवान की शरण में आकर अपना अपराध स्वीकार किया.

मंदिर की दानपेटी में कॉन्डम रखा गया

इसी वर्ष जनवरी महीने में कुछ असामाजिक तत्वों ने मंदिर की दानपेटी में कॉन्डम जैसी अभद्र वस्तु डाल दी थी और एक इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी के सभी वरिष्ट व दिग्गज नेताओं की अपमानजनक तस्वीर वाला पोस्टर भी डाला गया था. बाद में परिसर ने पुलिस में इसके खिलाफ़ शिकायत भी दर्ज करवाई लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया.

मंदिर

मंदिर में रहस्मय घटना घटित हुई

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इसके बाद इस मंदिर में हेरान करने वाली रहस्मय घटना घटित हुई, दरअसल दानपेटी में कॉन्डम रखने वाले दो लोगों ने खुद ही भगवान कोरगज्जा की शरण में आकर अपनी जान की भीख मांगी. फिर पुलिस ने भी करवाई करते हुए उन्हें हिरासत में लेकर घटनाक्रम की जांच में जुट गई.

उन दोनों ने पुजारी को बताया की हम दोनों ने ही हमारे तीसरे साथी नवाज के साथ मिलकर दानपेटी में कॉन्डम रखा था. इनमें से एक ने अपना नाम अब्दुल रहीम और दुसरे अब्दुल तौफिक बताया. इन्होंने कहा की हमारा तीसरा साथी नवाज़ भगवान कोरगज्जा से माफ़ी मांगने के लिए जिंदा नहीं बचा.

दोनों अपराधियों ने बताया की मंदिर में कॉन्डम रखने के बाद उसे एक दिन अचानक खुद की उल्टियाँ व पेशाब और मल से भी उसके खून निकलने लगा और उसके बाद वह अपने घर में दीवारों से सर पीट पीटकर मर गया, मरने से पहले उसने कहा की भगवान कोरगज्जा हमसे नाराज है.

उसकी मौत के बाद रहीम को भी बिलकुल नवाज़ के जैसे खून की उल्टियाँ शुरू हुई तो दोनों साथी मौत के डर से भागकर भगवान कोरगज्जा की शरण में आ गए और दया की भीख भी मांगने लगे. बेरहाल पुलिस ने इन्हें हिरासत में ले लिया है और पूछताछ भी कर रही है, मगर दोनों अभी भी बहुत डरे हुए हैं.

इसे भी पढ़ें:-

झारखंड में हेमंत सरकार ने रामनवमी जुलूस में रोक लगाई, भाजपा ने किया विरोध

By Sachin

One thought on “मंदिर की दानपेटी में कॉन्डम रखने वाले नवाज़ की रहस्यमय मौत, दो लोगों ने स्वीकारा अपराध”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *