व्लादिमीर पुतिन

व्लादिमीर पुतिन से मोदी ने ऐसी बात कि की वो दिनिया की सबसे बड़ी बात बन गई. मोदी और पुतिन की बातें अब के समय में सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोर रही हैं. ऐसे में आइए जानते है की इस बातचीत में ऐसा क्या ख़ास या स्पेशल रहा जो ये इस तरह सुर्खियां बटोर रही हैं.

व्लादिमीर पुतिन

सबसे पहले आपको बता दें की भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद ट्विट करके ये जानकारी दी की उन्होंने आज रूस के राष्ट्रपति से बात की. मोदी ने अपने ट्विट में यह भी बताया की उन्होंने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से क्या-क्या बातें की. जिसके बाद यह खबर हर सुर्खियां बटोरने लगी. आपको यह जानकार ख़ुशी होगी की कोरोना की देश में इस दूसरी लहर में रूस भारत की मदद को आगे आया हैं. रूस ने अपनी सबसे कामयाब कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक-V को भारत को देने वालें हैं. जो की 1 मई से देश के हस्पतालों में मरीजों को लगनी शुरू हो जाएगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी चीज के लिए ही पुतिन को शुक्रियादा करने के लिए उन से बात की थी. इस बातचीत को मोदी ने ट्विट करके बताया की उन्होंने पुतिन से क्या बातें की. मोदी ने ट्विटर पर लिखा की ‘आज मेरे मित्र राष्ट्रपति पुतिन के साथ एक उत्कृष्ट बातचीत हुई. हमने विकसित COVID-19 स्थिति पर चर्चा की, और मैंने महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई में रूस की मदद और समर्थन के लिए राष्ट्रपति पुतिन को धन्यवाद दिया’.

RSS एक बार फिर कोरोना से लड़ने को तैयार, सहायता हेतु इन नम्बरों पर कॉल करें

मोदी ने एक दूसरी पोस्ट में भारत और रूस के अन्तराष्ट्रीय सहयोग और सम्बन्ध के बारे में बताया. प्रधानमंत्री इस बारे में लिखते है की ‘हमने अपने विविध द्विपक्षीय सहयोग की भी समीक्षा की, विशेष रूप से अंतरिक्ष अन्वेषण और नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में, जिसमें हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था भी शामिल हैं. स्पुतनिक-वी वैक्सीन पर हमारा सहयोग महामारी से लड़ने में मानवता की सहायता करेगा’. इस तरह मोदी ने बताया की भविष्य में हम रूस के साथ मिलकर स्पेशल मिशन और अन्तरिक्ष में होने वाले कुछ मिशन पर काम करने वाले हैं.

मोदी सरकार की एक ओर स्ट्राइक, फेक न्यूज़ वाले सारे ट्विट्स डिलीट

प्रधानमंत्री ने आगे बताया की हमनें भारत और रूस के सम्बन्ध को और मजबूत करने के लिए भी कुछ प्लान किया हैं. मोदी ने ट्विटर पर लिखा की ‘हमारी मजबूत रणनीतिक साझेदारी को और गति देने के लिए, राष्ट्रपति पुतिन और मैं हमारे विदेश और रक्षा मंत्रियों के बीच 2 + 2 मंत्रालयों में संवाद स्थापित करने पर सहमत हुए हैं’. इस ख़ास बातचीत ने इतनी सुर्खियां बटोरी की यह दुनिया की सबसे बड़ी बातचीत बन गई.

यह जरुर पढ़ें :-

कोरोना संकट काल में मंदिरों का मिला साथ, वामपंथियों को किया खामोश

2 thoughts on “व्लादिमीर पुतिन से मोदी की बातचीत बनी दुनिया की सबसे बड़ी बात, जानिए क्या स्पेशल हुए इसमें?”

Leave a Reply

%d bloggers like this: