राज ठाकरे

जहां एक ओर हैदराबाद में टी राजा सिंह को लेकर बवाल मचा हुआ है, वहीं महाराष्ट्र में एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में उतर गए हैं।

इस वीडियो को भी पूरा देखें:-

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार MNS (महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना) सुप्रीमो राज ठाकरे ने भाजपा की निलंबित नेता नूपुर शर्मा का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि नूपुर शर्मा ने जो बात कही वही बात ज़ाकिर नाइक ने भी कही थी, लेकिन उससे कोई माफ़ी की माँग क्यों नहीं कर रहा? राज ठाकरे ने कहा कि जब से नूपुर शर्मा का बयान आया है, काफी राजनीति हो रही है और कोई उनका समर्थन नहीं कर रहा।

आपको बताते चलें कि राज ठाकरे कुछ दिनों से स्वास्थ्य लाभ ले रहे थे। उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ लंबे समय बाद हुई बैठक में ये बातें कही। उन्होंने कहा कि नूपुर शर्मा पर माफ़ी माँगने के लिए काफी दबाव बनाया गया, लेकिन ज़ाकिर नाइक से किसी ने माफ़ी माँगने के लिए नहीं कहा। बीमारी से ठीक होने के बाद पार्टी कैडर के बीच पहुँचे राज ठाकरे ने लंबी लड़ाई का आह्वान किया है।

बताया जा रहा है कि उनके कूल्हे की सर्जरी हुई थी। लेकिन, अब निकाय चुनावों से पहले वो सक्रिय हो गए हैं। उन्होंने हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी के भाई अकबरुद्दीन के उस बयान का जिक्र करते हुए उस पर भी हमला बोला, जिसमें उसने हिन्दुओं को दी थी। बता दें एमएनएस ने ये भी ऐलान किया है कि वोहलाल मांस के खिलाफ भी अभियान चलाएगी।

गौरतलब है कि राज ठाकरे ने इस दौरान अपने चचेरे भाई उद्धव ठाकरे पर भी हमला बोला और उन्हें याद दिलाया कि शिवसेना के संस्थापक बालासाहेब ठाकरे ने ही ये नियम बनाया था कि गठबंधन में जिस पार्टी के ज्यादा विधायक होंगे, मुख्यमंत्री भी उसी का बनेगा। उन्होंने याद दिलाया कि 2019 महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान ही नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने कह दिया था कि देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री होंगे, तब शिवसेना ने कोई आपत्ति नहीं जताई थी।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

राज ठाकरे ने की बड़ी अपील: ‘जहां भी लाउडस्पीकर से हो अजान, वहां पढ़ें हनुमान चालीसा

%d bloggers like this: