PFI

PFI ने सीक्रेट डॉक्यूमेंट्स में लिखा- 2047 तक भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना है, इससे जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ’10 प्रतिशत मुस्लिम भी साथ दे-दें तो काफिरों को घुटनों पर ला देंगे।’ ये  खतरनाक एजेंडा है कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का। पीएफआई वो संगठन है, जिसे देश में लगातार बैन करने की माँग की जा रही है। चरमपंथी संगठन पर देश में आतंकी साजिशें रचने, हिंदुओं की हत्याएँ करने तक के आरोप लगते रहे हैं। देखें वीडियो:-

दिल्ली के शाहीन बाग वाले प्रदर्शन से लेकर राजस्थान के उदयपुर में हिंदू टेलर कन्हैया लाल का सिर कलम करने और मध्य प्रदेश के खरगौन में वारदातों में इसके शामिल होने के कई सबूत भी सामने आ रही है। आपको याद होगा कुछ दिनों पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार के दौरे पर गए थे। इसमें गड़बड़ी पैदा करने के लिए पीएफआई ने खतरनाक साजिशें रची थीं। हालाँकि, बिहार शरीफ में पुलिस ने समय रहते रेड कर पीएफआई के कई सीक्रेट डॉक्यूमेंट को बरामद किया गया है।

उस दौरान जाँच टीम को कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन का एक ऐसा सीक्रेट डॉक्यूमेंट मिला था, जिसने पूरे प्रशासन के हाथ-पॉव भूल गए होंगे। इस मामले में अतहर परवेज को गिरफ्तार किया गया था, जो कि पहले सिमी का मेंबर रहा है। इसी कारण जाँच एजेंसियां इसको लेकर पहले से ही सतर्क हो गई। गौरतलब है कि हाल ही में एनआईए ने देश के कई राज्यों में पीएफआई के ठिकानों पर ताबड़तोड़  छापेमारी की थी। जाँच में तो यहाँ तक सामने आया था कि पीएफआई को फॉरेन फंडिंग हो रही थी।

केवल मध्य प्रदेश की बात की जाय तो राज्य में कट्टरपंथी संगठन अपनी पैठ बना चुका है। प्रदेश के 25 जिलों में पीएफआई का ठिकाना है। वैसे तो पीएफआई की स्थापना अल्पसंख्यकों के अधिकारों को ध्यान में रखते हुए की गई है, लेकिन पुलिस अधिकारियों कहना है कि ये संगठन कई मामलों में सिमी से कम नहीं है।  खास बात ये है कि ऐसे कई सबूत मिल चुके हैं कि पीएफआई के मेंबर पढ़े-लिखे लोगों का ब्रेनवॉश करके उनमें कट्टरता का जहर घोल रहे हैं।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

PFI की रैली में लगे ‘पाकिस्तान ज़िंदाबाद’ के नारे: सामने आए वीडियो में दिख रहा नारे लगाने वालों के CHEHREचेहरे

%d bloggers like this: