राहुल गांधी

अक्सर कॉंग्रेस सांसद राहुल गांधी अपने बयानों के कारण सोशल मीडिया पर ट्रोल होते हैं, इसी क्रम में एक बार फिर उनके बयान से लोग उन्हें जमकर धो रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कॉन्ग्रेस के युवराज राहुल गाँधी अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। अपने बेतुके बयानों को लेकर वो हंसी का पात्र भी बन जाते हैं। ताजा मामले में भी ऐसा ही हुआ जब केंद्र सरकार पर हमला करने के चक्कर में उन्होंने आटा का रेट 40 रुपए लीटर बता दिया। जबकि आटा तरल पदार्थ नहीं होने के कारण इसे किलो में मापा जाता है। आप भी इस वीडियो को पूरा देखें:-

सोशल मीडिया पर अब राहुल गाँधी का ये बयान तेजी से वायरल होने लगा है। दरअसल, राहुल गाँधी रविवार (4 सितंबर 2022) को देश में बढ़ती महंगाई के खिलाफ हल्ला बोल रैली को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने महंगाई के आँकड़े भी गिनाए। उन्होंने कहा, “2014 में एलपीजी सिलेंडर 410 का था, आज 1,050 रुपए का है, पेट्रोल 70 रुपए लीटर था, आज तकरीबन 100 रुपए लीटर, डीजल 70 रुपए लीटर और आज 90 रुपए लीटर।”

इसे भी देखें:-

उन्होंने अपने इस बयान को जारी रखते हुए आगे कहा, “सरसों का तेल 90 रुपए लीटर आज 200 रुपए लीटर। दूध 35 रुपए लीटर आज 60 रुपए लीटर। आटा 22 रुपए लीटर आज 40 रुपए लीटर हो गया है।” इतनी बड़ी चूक के बाद जैसे ही राहुल गाँधी को अपनी भूल का आभास हुआ तो उन्होंने तुरंत उसे करेक्ट किया। हालाँकि, तब तक बड़ी देर हो चुकी थी।

सोशल मीडिया पर उनका ये बयान वायरल हो गया। बीजेपी समेत नेटिजन्स ने राहुल गाँधी का जमकर मखौल उड़ाया। अपने भाषण के दौरान उन्होंने मोदी सरकार को उद्योगपतियों की सरकार साबित करने की कोशिश की और कहा कि आज केवल दो उद्योगपतियों को फायदा मिल रहा है। भारत में ही दो देश हो गए हैं। पहला 10-15 उद्योगपतियों का और दूसरा गरीब, किसान, मजदूर और बेरोजगारों का।

वो जब राहुल ने की बड़ी गलतियाँ

बात जुबान से और तीर कमान से निकलने के बाद वापस नहीं आता। अगर ऐसा होता तो सबसे पहले राहुल गाँधी अपने शब्दों को वापस अपने पोटली में रख लेते। क्योंकि उनके शब्द ही उनकी फजीहत का कारण बनते हैं। 2017 के गुजरात विधानसभा चुनावों में आलू से सोना वाला बयान उनके गले की हड्डी बन गया था। 2017 में ही उन्होंने तमिलनाडु में अम्मा कैंटीन को इंदिरा कैंटीन बता दिया था। ऐसे ही स्टीव जॉब्स को माइक्रोसॉफ्ट कह दिया था। मनरेगा को भी नरेगा कह दिया था।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

राहुल गांधी का हिंदू-घृणा वैर जारी, रथ यात्रा की शुभकामना में भूल गए भगवान जगन्नाथ

%d bloggers like this: