सचिन तेंदुलकर पर कोच्ची में युवा कोंग्रेस के सदस्यों ने कालिख़ पोत दिया, सचिन ने देश के भीतर हक्तक्षेप करने वालों का विरोध किया था.

सचिन तेंदुलकर

देश में नय कृषि कानून को लेकर लगभग पिछले 80 दिनों से किसान आंदोलन चल रहा है, इस बिच सरकार और किसान नेताओं के मध्य कई बार वार्ता भी हुई लेकिन इसका कोई स्पष्टीकरण नतीजा नहीं निकल पाया.

इसी के 26 जनवरी गणतन्त्र दिवस के मौके पर ट्रेक्टर परेड के दौरान किसानों ने हिंसक होकर दिल्ली एन. सी. आर में बहुत उत्पात मचाया और दिल्ली पुलिस के लगभग 70 से अधिक पुलिसकर्मियों को नुकसान पहुंचा, यहां तक की उन्होंने लाल किले पर तिरंगे के सामने ही अपना खुद का झंडा फेहरा दिया.

सचिन तेंदुलकर ने देश एकजुटता की बात कही

किसानों द्वारा किए गए उत्पात के बाद मानों विदेशी लोकप्रियता प्राप्त लोगों को किसानों के प्रति बहुत लगाओ होना शुरू हो गया और देखते ही देखते एक के बाद एक कई बड़े से बड़े लोकप्रिय कलाकारों ने भारत में चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन किया.

इसी विदेशी हक्तक्षेप का विरोध करते हुए भारत रत्न सचिन तेंदुलकर ने ट्विट किया और अपने ट्वीट के जरिए भारत के सभी नागरिकों से एक राष्ट्र के रूप में एकजुट होने की अपील की थी. आगे सचिन ने लिखा की “भारत की संप्रभुता से कोई समझौता नहीं किया जा सकता है, बाहरी ताकतें दर्शक हो सकती हैं लेकिन कभी इसकी प्रतिभागी नहीं”.

भारत रत्न सचिन तेंदुलकर पर कालिख़ पोती

भारत रत्न और पद्म विभूषण और पद्मश्री जैसे पुरुस्कार से सम्मानित सचिन तेंदुलकर की देश को एकजुट रहने वाली अपील से कई वामपंथी गतिविधियों को बहुत चोट पहुंची है.

दरअसल केरल के कोच्चि में शुक्रवार (5 फरवरी 2021) को युवा कॉन्ग्रेस के सदस्यों ने विरोध जताते हुए सचिन तेंदुलकर के कट आउट पर कालिख पोत दी और इसके बाद जमकर नारेबाजी भी की हैं.

इसे भी पढ़े:-

पुणे में शरजित उस्मानी ने हिंदू समाज सड़ा हुआ बताया, भाजपा ने शिकायत दर्ज कराई

By Sachin

2 thoughts on “सचिन तेंदुलकर पर पोती कालिख़, देश में एकजुटता वाली बात करने पर कोंग्रेस ने किया विरोध”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *