RSS

प्रत्रकार सीमा चिश्ती ने ट्विट कर RSS के प्रमुख मोहन भागवत का उड़ाया मजाक, अपने ट्विट में जनसत्ता के एक लेख की फ़ोटो भी डाली.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इंडियन एक्सप्रेस और बीबीसी की पूर्व पत्रकार सीमा चिश्ती ने एक ट्विट के जरीय RSS के प्रमुख मोहन भागवत का मजाक उड़ाते हुए कहा की “सही में ऐसी मुर्खता को बाहर आना चाहिए”. दरअसल उन्होंने इसके साथ जनसत्ता के लेख को भी शेयर किया जिसमें एक भ्रामक शीर्षक लिखा गया है, बाद में जनसत्ता के अपना शीर्षक बदल दिया.

बता दें की जनसत्ता ने अपने लेख का पहले शीर्षक “जो लोग चले गए, वे मुक्त हो गए, बोले RSS  प्रमुख”. गोरतलब है की बाद में इसका शीर्षक बदलकर “राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने आज एक कार्यक्रम में कहा कि जिन लोगों की कोरोना से मौत हुई है, वह एक तरीके से मुक्त हो गए हैं”. बता दें की अपने संबोधिन के जरीय मोहन भागवत ने समाज में एल सकारात्मत उर्जा का प्रवाह किया था, हिंदू धर्म की मान्यता में मुक्त का अर्थ मौत से नहीं है, बल्कि मोक्ष से हैं.

अपने संबोधिन में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भगवत ने कहा की “ये कठिन समय है, अपने लोग चले गए, उनको ऐसे असमय चले जाना नहीं था, परन्तु अब तो गए, कुछ नहीं कर सकते, अब जो परिस्थिति है, उसमें हम हैं और जो चले गए, वो तो एक तरह से मुक्त हो गए, उनको इस परिस्थिति का सामना अब नहीं करना है, हमको करना है, पीछे हम लोग हैं, हमको अपने आप को और अपने सब को सुरक्षित रखना है, कुछ नहीं हुआ, सब कुछ ठीक है, ऐसा हम नहीं कह रहे, परिस्थिति कठिन है, दुःखमय है, मनुष्य को व्याकुल करने वाली है, निराश करने वाली है, लेकिन यह परिस्थिति है, इसको स्वीकार करते हुए हम अपने मन को निगेटिव नहीं होने देंगे, हमको अपने मन को पॉजिटिव रखना है, शरीर को कोरोना निगेटिव रखना है और मन को पॉजिटिव रखना है”.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

Positive Unlimited: जब तक जीत न जाएं, तब तक लड़ेंगे –RSS

One thought on “सीमा चिश्ती ने हिंदू धर्म और RSS का उड़ाया मजाक”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: