श्रंगा यादव

डासना के शिव व शक्ति मंदिर में आसिफ़ की हुई पिटाई के पीछे का सच सामने आ गया है, पिटाई करने वाले श्रंगा यादव ने बताया की शिवलिंग पर टॉयलेट कर रहा था.

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में स्थित डासना कस्बे के भगवान शिव और माता पार्वती को समर्पित एक मंदिर में कई दिनों पहले एक आसिफ़ नामक किशोर की स्थानीय जन ने पिटाई कर दी, आसिफ का आरोप था की वो मंदिर में बस पानी पीने गया और मुस्लिम होने के कारण उसे पिटा गया.

जिसके बाद तमाम मीडिया और कट्टरपंथी संस्थाओं ने खुद बवाल खड़ा किया है और ‘एक समुदाय विशेष से सम्बंध होने के कारण किशोर को पिटा गया’ इस प्रकार की दलीलें सबके सामने रखते हुए मंदिर को बदनाम करना आरंभ कर दिया, लेकिन बता दें की सच कुछ ओर ही कहानी बयां कर रहा है.

श्रंगा यादव ने बताया सच

इस घटना के चश्मदीद गवाह और आसिफ़ को पीटने वाले युवक श्रंगा यादव ने एक मीडिया इन्टरव्यू में घटना की जानकारी देते हुए मंदिर के शिवलिंग को दिखाकर कहा की “वो लड़का इस शिवलिंग पर टॉयलेट कर रहा था और मना करने पर बत्तमीजी की इसलिए उसकी पिटाई की थी”.

युवक ने बताया की “वो लड़का झूठ बोल रहा है कि वो पानी पीने के लिए मंदिर के भीतर घुसा था, मैनें उस लड़के को शिवलिंग पर चढ़ाए गए जल में टॉयलेट करते हुए देखा था और यदि उसे पानी पीना होता तो वो मंदिर के बाहर कई चापाकल और नल हैं उनमें से पी लेता”.

श्रंगा यादव ने दो लड़कों को पकड़ा

उन्होंने बताया की “आसिफ के साथ एक और लड़का था, जो टोपी पहन कर आया हुआ था, उसने उस लड़के को ही सबसे पहले देखा था, जो दरवाजे पर खड़ा था, वो लड़का अपनी पैंट की चेन खोल कर गलत हरकतें कर रहा था, उस समय कई हिन्दू महिला श्रद्धालु भी मंदिर में आए हुए थे, ऐसे लड़के अक्सर यहां आकर उलटी-सीधी हरकतें करने के लिए आते रहते हैं”.

इसे भी पढ़े:-

राजस्थान गैंगरेप मामला: पीड़िता ने बताई रूह कंपा देने वाली सच्चाई, भाजपा ने सरकार को घेरा

%d bloggers like this: